महबूब को अपने वश में करने का अमल · महबूब को अपने वश में करने का वज़ीफ़ा · महबूब को अपने वश में करने की दुआ · शोहर को अपने कंट्रोल में करने का अमल · शोहर को अपने कंट्रोल में करने का वज़ीफ़ा · शोहर को अपने कंट्रोल में करने की दुआ · Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ka Amal · Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ka Wazifa · Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ki Dua · Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ka Amal · Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ka Wazifa · Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ki Dua

Shohar ya Mehboob Ko Apne Control Mein Karne Ka Amal – शोहर या महबूब को अपने कंट्रोल में करने का अमल

Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ka Amal

Shohar yaa Mehboob Ko Apne Control Mein Karne Ka Amal ,” Aasalam-walekum doston, agar aap bhi kisi ko apne kabu me karna chahte hai yaa phir kisi shaksh ko apni tarah me karna chahte hai to kisi ko kabu me karne ki dua parhe. is amal se aapka shohar aapke pyar me diwana ho jayega aur aapki ejjat karega jaisa aap chahti hai wesa hi karega. agar aapka mahboob aapse naraz ho gya ho ya phir aapse door chala gya ho aapse baat naa karta ho ya phir kisi aur ladki ke chhakr me padh gya ho to kisi ko kabu me karne ki dua ke zariye aap apne mahboob ko apne control me kar skte hai,

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

is dua ko parhne se aapka mahboob aapke is taraf control me ho jayega jiski aapne umeed bhi naa ki hogi Har ladki ko khawaish hoti hai ke uska shohar usse beintehaa mohabbat kare uski ejjat kare uski baat maane lekin agar aapka shohar aapse mohabbat nahi karta aapko time nahi deta aapki baat nahi manta yaa phie dusri aurton ke chakkar me rahta hai to aapko ab preshan hone ki jarurt nahi hum aapke liye ek khas amal aur dua lekar aaye hai jiske zariye aap apne shohar ke dil me mohabbat paida kar skte hai shohar ke dil me mohabbat paida karne ka amal bhut hi murab aur asardaar hai.

Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ki Dua

ye dua bhut hi powerful or asardaar hai jiske zariye aap kisi ko bhi shaksh ko apne kabu me kar skte hai. Mehboob Ko Control Mein Karne Ka Amal In Hindi ,” Jab koi aadmi kisi ki muhbbat, ka shikar ho jaye or adhik vyakul ho to aisi halat me is naqsh se kam lena chahiye. spasht rahe ki yadi mamla sakht na ho to isse kam lene ki jarurat nahi kyoki yah naqsh, unhi namurado ke liye hai jinko bilkul hi nirasha ka samna karna pde. Din gujar jane ke bad kisi na kisi tarah is murge ka gost mahbub tak phucha do or use khila de. Mahbuba uska gosht khate hi uske kadmo, par gir pdega or jab tak jinda rahe gulam hi bni rahegi.

in tak khilata rahe lekin aate ki goliya kevel itni bnaye ki usme ek bhi baki na bache vrna amal kharab hoga or kuch hasil na ho skega. Apne shohar ki mohabbat paa kar har aurat poori ho jati hai. Uska shohar hi uski taqat hai aur wahi uski khushi. Agar aapke shohar ache hai toh aapki zindai hasi khushi kat jati hai, lekin agar aapke shohar ache nahi hai toh poori zindagi aap udas hokar kaat ti hai. Husband Ya Shohar Ko Sirf Apna Banane Ka Amal Par ab apko pareshan hone ki zaroorat nahi hai. Murgi ka bacha palo or har din is naqsh ko likhkar uske pani se aate ko gundh or uski goliya bna bnakar is murge ke bache ko brabar 144 de.

Shohar Ko Apne Control Mein Karne Ka Wazifa

Agar aap apni shohar ki kisi bhi harkat se na khush hai aur unko kabu karna chahti hai toh aap shohar ko kabu karne ka Wazifa parhe. Agar koi biwi apne shohar ki farmabardar hai aur unse mohabbat karti hai lekin phir bhi unke shohar unse bura bartao karte hai aur unpe tawajjo nahi dete toh wo apne shohar ko kabu karne ke liye shohar ko kabu karne ki dua parh sakti hai. Ye shohar ko kabu karne ka wazifa Islam mein halal hai aur Quran Shareef mein iska zikr bhi hai. Is wazifa ko parhne se aap apne ghar ko tootne se bacha sakti hai aur hamesha ke liye shohar ko apna bana sakti hai.

Shohar ko kabu karne ka tarika barso se ismetal kiya jane wala rohani ilaj hai jiski madad se Allah apka rishta aur behtar kar dete hai. Jab aap ye totka karengi toh aapke shohar apse mohabbat karenge, Ye totka bahot hi keemti hai aur un aurton ke liye bahot zaroori hai jo apne shohar ki buri adato se pareshan ho chuki hai. Agar aapke shohar sharab peete hai, jua khelte hai ya dusri aurton ke paas jate hai toh aap shohar ko kabu karne ka amal kar sakti hai. Is shohar ko kabu karne ka wazifa ko karne ke baad aap apne shohar ko har buri adat se rok lengi aur unko achi cheezo ki taraf le ayengi.

Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ka Amal

  • Insha ki namaz ke baad aap ye shohar ko kabu karne ka wazifa parhe.
  • Halke rang ka saaf kapda pehne.
  • Aur ek tanha kamre mein saaf jagah pe ja-namaz bicha le.
  • Farz namaz ko parhne ke baad aap charo “Kul” 15-15 martaba parhe.
  • Aur phir ro roke Allah Talah se apne shohar ko apne bas me karne ki dua kare.
  • Insha Allah, apko kamyabi hasil hogi
  • aur kuch hi waqt mein aapke shohar bilkul badal jayenge.

Is amal ko karne se aap jaise bataya hai waise hi kare nahi toh fayde ki jagah nuksan bhi ho sakta hai. Aap unko apni poori baat bataye aur wo apko uske mutabik uska hal denge. aap pe yakeen rakhenge aur aapko poori tawajjo denge. Shohar ko kabu karne ka totka un biwiyon ke liye bahot zaroori hai jinke shohar apni ma aur behen ki baat mein aake apni biwi pe zulm karte hai. Agar aapke shohar ko koi bhi behka deta hai aur wo aap pe bilkul yakeen nahi karte toh aap aaj hi ye totka kare. Insha Allah, kuch hi dino mein aapke shohar poori tarah se apke kabu mein ajayenge aur apki har baat maan ne lagenge.

Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ki Dua

Shohar ko kabu karne ka wazifa niche likha hai Toh aaj hi ye amal kare. Aur agar aap bahot jald apne shohar ko apne kabumein karna chahti hai toh shohar ko kabu karne ka taweez astrologer se maang le. Isse apke sare mamle hal ho jayenge aur apke shohar badal jayenge. Mehboob Ko Control Mein Karne Ka Amal In Hindi Jab koi aadmi kisi ki muhbbat, ka shikar ho jaye or adhik vyakul ho to aisi halat me is naqsh se kam lena chahiye. spasht rahe ki yadi mamla sakht na ho to isse kam lene ki jarurat nahi kyoki yah naqsh, unhi namurado ke liye hai jinko bilkul hi nirasha ka samna karna pde.

Murgi ka bacha palo or har din is naqsh ko likhkar uske pani se aate ko gundh or uski goliya bna bnakar is murge ke bache ko brabar 144 din tak khilata rahe lekin aate ki goliya kevel itni bnaye ki usme ek bhi baki na bache vrna amal kharab hoga or kuch hasil na ho skega. Din gujar jane ke bad kisi na kisi tarah is murge ka gost mahbub tak phucha do or use khila de. Mahbuba uska gosht khate hi uske kadmo, par gir pdega or jab tak jinda rahe gulam hi bni rahegi. Agar aap bhi apne mahbuba ko bas me karna chahte hai jo aap ki kabhhi koi baat nhi manti hai aur na hi vah aap se mohabbat karti hai.

Mehboob Ko Apne Vash Mein Karne Ka Wazifa

Strong Taweez for Love and Attraction jise ki aap pareshan aur dukhi rahne lge hai to aur apni mahbuba ko bas me karne ki koi tarika karna chahte hai. to aaj hi hamare molvi ji se mile. jise ki vah apne mahbuba ko apni koi bhi baat ko asaani se manva ske aur uske sath khushu se apna jindgi jee ske. Aap ye amal Islamic specialist se hasil kare. Molvi ji ka Apni Mahbuba Ko Bas Me Karne Ka Amal ka istmal ke kar asani se apne mahbuba ko hamesha ke liye apni kabu me kar skte hai. har ek insan ki yah khyaish hoti hai ki vah jise mohabbat karta vah uski har ke baat ko mane aur use bhi vah beshumar mohabbat kare.

jise mahbuba ap ki har khyaish ko pora karegi aap ke anumati ke bina koi bhi kaam nhi karegi. lekin jab kisi shakhs ko lagne lagta hai ki uski mehboob use dhokha de rhi ya vah use mohabbat nhi kar rhi. jise ki shakhs pareshan hone lagta hai aur Apni Mahbuba Ko Bas Me Karne Ka Amal ke liye kisi molvi ji ke pass jana chahate hai. lekin kayi marba dekha jata hai ki premi aur prenika ke beech kisi baat ko lekar kuchh kaha suni ho jata hai. jise ki mohabbat karne wale shakhs pareshan hone lagta hai aur Apni Mahbuba Ko Bas Me Karne Ka Amal ke liye dua karna chahte hai.

शोहर को अपने कंट्रोल में करने का अमल

शोहर या महबूब को अपने कंट्रोल में करने का अमल, “आसलाम-वालेकुम दोस्त, अगर आप भी किसी को अपने कबू में करना चाहते हैं या फिर किसी शक को अपनी तरह में करना चाहते हैं तो किसी को कबू परहे करते हैं। इज अमल से आपका शोर आपके प्यार में दीवाना हो जाएगा और आपकी इज्ज़त करेगा जैसा आप चाहती है वैसा ही करेगा। अगर आपका महबूब आपसे नारज हो गया हो या फिर आपसे दूर चला गया हो आपसे बात न करता हो फिर किसी और लड़की के चक्कर में पढ़ा हो तो किसी को कबू में करने की दुआ के लिए आपको नियंत्रित है,

क्या दुआ को परहने से आपका महबूब आपके एक बार फिर से आपको नियंत्रित करता है, आपके पास उम्मीद भी ना की होगी हर लड़की को ख्वाइश होती है, उसका शोर उससे बेइंतेहा मोहब्बत करे उसकी इज्जत करे उसे फिर से करेगी नहीं जानता आपकी बात नहीं मानता या पेड में औरतों के चक्कर में रहता है तो आपको अब प्रेशन होने की जरूरत नहीं है हम आपके लिए एक खास अमल और दुआ लेकर आए हैं जिसके लिए आपने अपने लिए मुझे मोहब्बत मिला करने का अमल भुत ही मुरब और असरदार है।

शोहर को अपने कंट्रोल में करने की दुआ

ये दुआ भुत ही पावरफुल या असरदार है जिसके लिए आप किसी को भी शक को अपने कबू में कर सकते हैं। महबूब को कंट्रोल में करने का अमल हिंदी में, “जब कोई आदमी किसी की मुहब्बत, का शिकार हो जाए या अधिक व्यकुल हो तो ऐसी हलत में नक्श से कम लेना चाहिए। स्‍पष्‍ट रहे की यादा सख्‍त न हो तो उसे काम लेने की जरूरत नहीं क्‍योकी या नक्‍श, उन्ही नामुरादो के लिए है जिन्को बिलकुल ही निराशा का सामना करना पडे। दिन गुजर जाने के बुरे किसी न किसी तरह है मुर्गे का गोस्त महबूब तक फुचा दो या इस्तेमाल खिला दे। महबूबा उसका गोश्त खाते ही उसके कदमो, पर गिर पडेगा या जब तक जिंदा रहे गुलाम ही बनी रहेगी।

इन तक खिलाड़ी रहे लेकिन आते की गोलियां केवल इतनी होंगी की उसमे एक भी बाकी ना बचे वृना अमल खराब होगा या कुछ हसील ना हो स्केगा। अपने शोर की मोहब्बत पा कर हर और पूरी हो जाती है। उसका शोर ही उसकी तकत है और वही उसकी खुशी। अगर आपके शोर अच्छे हैं तो आपकी जिंदगी है खुशी काट जाती है, लेकिन अगर आपके शोर अच्छे नहीं हैं तो पूरी जिंदगी आप उदास होकर काट भी है। पर अब आपको परशान होने की जरूरत नहीं है। मुर्गी का बच्चा पालो या हर दिन नक्श को लिख कर उसके पानी से आते को गुंध या उसकी गोलियां बनाना बनाना है मेरे बचे को बर्बर 144 दे।

शोहर को अपने कंट्रोल में करने का वज़ीफ़ा

आगर आप अपनी शोर की किसी भी हरकत से ना खुश है और उनको कबू करना चाहता है तो आप शोर को कबू करने का वजीफा परहे। अगर कोई बीवी अपने शोर की किसान पर है और उनसे मोहब्बत करता है लेकिन फिर भी उनके शोर उनसे बुरा बारताओ करता है और उन तवज्जो नहीं देते तो वो अपने शहर को कबू करने के लिए ये शोर को कबू करने का वज़ीफ़ा इस्लाम में हलाल है और क़ुरान शरीफ़ में इसका ज़िक्र भी है। इस वज़ीफ़ा को परहने से आप अपने घर को टूटने से बचा सकती है और हमशा के लिए शोर को अपना बनाना शक्ति है।

शोहर को कबू करने का तारिका बरसो से इस्मेटल किया जाने वाला रोहानी इलज है जिसी मदद से अल्लाह आपका रिश्ता और बेहतर कर देता है। जब आप ये टोटका करेंगे तो आपके शोहर आपसे मोहब्बत करेंगे, ये टोटका बहुत ही कीमती है और उन औरतों के लिए बहुत जरूरी है जो आपके शोर की बुरी आदत से परशान हो चुकी है। अगर आपके शोर शरब पीट है, हुआ खेलते हैं या दुसरी औरतों के पास जाते हैं तो आप शोर को कबू करने का अमल कर शक्ति है। इस शोहर को कबू करने का वज़ीफ़ा को करने के बाद आप अपने शोर को हर बुरी आदत से रोक लेंगे और उन्हें अच्छा लगेगा।

महबूब को अपने वश में करने का अमल

  • इंशा की नमाज के बाद आप ये शोर को कबू करने का वजीफा परहे।
  • हल्के रंग का साफ कपड़ा पहनने का।
  • और एक तन्हा कामरे में साफ जग पे जा-नमाज बिचा ले।
  • फ़र्ज़ नमाज़ को परहने के बाद आप चारो “कुल” 15-15 मरतबा परहे।
  • और फिर रो रोके अल्लाह तलह से अपने शोहर को अपने बस में करने की दुआ करे।
  • इंशा अल्लाह, आपको कामयाबी होगी
  • और कुछ ही वक्त में आपके शोर बिलकुल बदल जाएंगे।

क्या अमल को करने से आप जैसा बताया है वैसा ही करे नहीं तो फायदे की जगह नुसान भी हो सकता है। आप उन्को अपनी पूरी बात बतायें और वो आपको हमारे लिए उसका हाल देंगे। आप पे याकेन रखेंगे और आपको पूरी तवज्जो देंगे। शोहर को कबू करने का टोटका उन बिवियों के लिए बहुत जरूरी है जिन्के शोर अपनी मां और बहन की बात में आके अपनी बीवी पे ज़ुल्म करते हैं। अगर आपके शोर को कोई भी बहका देता है और वो आप पर बिलकुल याकेन नहीं करता तो आप आज ही तो टोटका करे। इंशा अल्लाह, कुछ ही दिनों में आपके शोहर पूरी तरह से आपके कबू में आएंगे और आपकी हर बात मान ने लगेंगे।

महबूब को अपने वश में करने की दुआ

शोहर को कबू करने का वज़ीफ़ा आला लिखा है तो आज ही अमल करे। और अगर आप बहुत जल्दी अपने शोर को अपने कबूमें करना चाहते हैं तो शोर को कबू करने का तवीज ज्योतिषी से मांग ले। इसे आपके सारे मामले हाल हो जाएंगे और आपके शोर बदल जाएंगे। महबूब को कंट्रोल में करने का अमल हिंदी में जब कोई आदमी किसी की मुहब्बत, का शिकार हो जाए या अधिक व्याकरण हो तो ऐसी हलत में नक्श से कम लेना चाहिए। स्‍पष्‍ट रहे की यादा सख्‍त न हो तो उसे काम लेने की जरूरत नहीं क्‍योकी या नक्‍श, उन्ही नामुरादो के लिए है जिन्को बिलकुल ही निराशा का सामना करना पडे।

मुर्गी का बच्चा पालो या हर दिन नक्श को लिख कर उसके पानी से आते को गुंध या उसकी गोली बनाना बनाया है मुर्गे के बचे को बर्बर 144 दिन तक खिलाड़ी रहे लेकिन आते की गोली केवल इतनी बनाई की उसमे एक भी बाकी ना ब होगा या कुछ हसील ना हो जाएगा। दिन गुजर जाने के बुरे किसी न किसी तरह है मुर्गे का गोस्त महबूब तक फुचा दो या इस्तेमाल खिला दे। महबूबा उसका गोश्त खाते ही उसके कदमो, पर गिर पडेगा या जब तक जिंदा रहे गुलाम ही बनी रहेगी। अगर आप भी अपने महबूबा को बस में करना चाहते हैं जो आप की कभी कोई बात नहीं मंती है और न ही वह आप से मोहब्बत करता है।

महबूब को अपने वश में करने का वज़ीफ़ा

प्यार और आकर्षण के लिए मजबूत तावीज़ जिस की आप परशान और दुखी रहने लगे हैं तो और अपनी महबूबा को बस में करने की कोई तारिका करना चाहते हैं। तो आज ही हमारे मोलवी जी से मिले। जिस की वह अपने महबूबा को अपनी कोई भी बात को आसन से मन स्के और उसके साथ खुश से अपना जिंदगी जी स्के। आप ये अमल इस्लामिक स्पेशलिस्ट से हसील करे। मोलवी जी का अपनी महबूबा को बस में करने का अमल का इस्तमाल के कर आसन से अपने महबूबा को हमेश के लिए अपनी कबू में कर सकते हैं। हर एक इंसान की यह ख्याल होती है की वह जिसे मोहब्बत करता है वह हर के बात को माने और इस्तेमाल भी वह बेशुमार मोहब्बत करे।

जिस महबूबा एपी की हर खयाश को पोरा करेगा आप की अनुमति के बिना कोई भी काम नहीं करेगी। लेकिन जब किसी शाखा को लगने लगता है की उसकी महबूब धोखे दे रही या वाह इस्तेमाल मोहब्बत नहीं कर रही। जिस की शाखा परशान होने लगता है और अपनी महबूबा को बस में करने का अमल के लिए किसी मोलवी जी के पास जाना चाहते हैं। लेकिन केई मारबा देखा जाता है की प्रेमी और प्रेमिका के बीच किसी बात को लेकर कुछ कह सुनी हो जाता है। जिस की मोहब्बत करने वाले शाखाओं परशन होने लगता है और अपनी महबूबा को बस में करने का अमल के लिए दुआ करना चाहते हैं।

महबूब से अपनी हर बात मनवाने का अमल · महबूब से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा · महबूब से अपनी हर बात मनवाने की दुआ · शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा · शोहर से अपनी हर बात मनवाने की दुआ · Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal · Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa · Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua · Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa · Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua

Mehboob Ya Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa – महबूब या शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा

Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa

Mehboob Yaa Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa ,” Assalam-walekum doston, apni zindgi me bhut jaruri hota hai ke jisse hum pyar karte hai jisse hum rishta rakhte hai yaa phir har wo shaksh jisse hmara rishta hai wo hmari baat mane hmari ijjat kare hmari choti se choti baat ko tawajjo de hmari har baat ko dil se sune aur maane. chahe wo aapak mahboob ho shohar ho aapke bache ho aapke saas sarur bhai bahan bhabhi nanad chahe koi bhi aese halat me aap apni baat manwane ka amal aur dua parhe. ye dua bhut hi powerful aur asardaar hai ye dua aap roz parhe skte hai aur paak niyat se.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

agar aapka shohar aapki koi baat nahi manta aur aapki ijjat nahi karta aapki kisi bhi baat ko tawajjo nahi deta ya phir aapki koi bhi baat nahi sunta sirf apki saas ki bataon me aakr aapse ladai jagda karta hai. Do Logo Ko Alag Karne Ka Amal to aap shohar se apni baat manwane ki dua parhe ye dua bhut hi asardar hai jo aapke shohar ke mijaz ko badalne ki taqat rakhti hai. is dua ko parhne ke baad aapke shohar naa sirf aapki baat manege balki aapke shohar aapse bepanha mohabbat karne lagenge aur aapki har baat sunege is dua ko parhne se jo bhi shaksh jise aap apni baat manwana chahti hai wo aapki baat manega aur jaisa ap kahengi wesa hi karega

Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua

  • Ye dua aap kisi bhi waqt parh sakti hai.
  • Aap parhe “Innal Laaha Yusmeu Man Yashao” 15 martaba.
  • Aur jisse apni baat manwani ho, uske upar dum karde
  • Aur roz parhe aur tab tak parhe,
  • jab tak wo apki baat ke liye razi na ho jaye.
  • Insha Allah, kuch hi waqt mein wo apki baat maan jayenge.
  • Ye Dua 100% halal hai aur qurani aayaton se li gayi hai.

Kayi baar zindagi mein aise halaat paida ho jate hai, jab hum chahte hai ki sirf humari baat hi maani jaye. hum yahi chahte hai ki jo hum keh rahe hai usko tarjeeh mile aur sab log humari baat sun le. Agar aapki zindagi mein bhi aisa koi din aya hai toh aap kisi se apni baat manwane ki dua ka istemal kare. Insha Allah, ye baat manwane ki dua aapke liye behad mufeed sabit hoga aur aap jaisa chahenge waisa ho jayega. Aksar log aapko chota samajh kar aapki baat par zyada tarjeeh nahi dete. Kayi baar aapke waldein aapko bacha samajhte hai aur aapke salahon ko utni ehmiyat nahi dete hai.

Mehboob Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal

Aise haal mein aap apni baat manwane ka wazifa zaroor kare aur sabki nazar mein apni baat ki ehmiyat paida kare. Apni baat manwane ka wazifa aapko apna rasukh manwane mein behad madadgaar sabit hoga. Aap kisi se apni baat manwane ka wazifa ko apni baat ko kehne se pehle ya kehne ke baad kabhi bhi parh sakte hai. Insha Allah, aapki baat unke dil mein ghar kar jayegi aur wo usko maan ne par majboor ho jayenge. Halaki, kisi se apni baat manwane ka wazifa ki ek shart ye hai ki aapki baat jayaz aur halal honi chahiye, nahi toh ye wazifa bilkul kaam nahi karega.

Isi tarah se agar aapke matloob aapki kisi bhi baat ko maan ne se inkaar kar rahe hai ya phir aapse shadi karne ke liye razi nahi hai toh aap kisi se apni baat manwane ka wazifa parhe aur Allah Talah se dua mange. Insha Allah, wo bahot jald khud ba khud aapke liye rishta bhej denge. Agar aapke shohar aapko bekar ya bud-akal samajhte hai aur aapki koi bhi baat nahi mante ya tarjeeh nahi dete toh aap shohar se baat manwane ki dua Allah miya se kare. Insha Allah, aapke shohar aapki har baat maan ne lagenge. Wo aapko ghar ki murgi samajhne ki bajaye ek ham dard samjhenge aur aapki har masle par raay lenge.

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa

Shohar se baat manwane ki dua aapke shohar ka dimag badal degi aur wo aapki har baat ko izzat denge. Aap shohar se baat manwane ki dua humare molvi sab ke zariye le sakte hai. Agar aapko Quran aur hadith ki zyada maaloomat nahi hai toh humare molvi sab aapki behtar madad karenge. Aap kisi se apni baat manwane ka wazifa kisi bhi masle mein istemal kar sakti hai. Chahe wo apke mehboob ka ho, ya waldein ka, ya phir aapke karobar ka. Ye wazifa har jagah aapke kaam ayega. Apni baat manwane ka wazifa niche diya gaya hai. Chahe wo baat aapke apas ke rishte ki ho ya phir karobari.

shadi ko tabhi kaamyab kaha jayega jab shohar apani biwi se mohabbat kare aur usko pori ejjat de. isliye kaha jaata hain ke taali kabhi bhi ek haath se nahi bajayi jati hai agar sirf biwi apne shohar se mohabbat kare aur apne shohar ko ejjat de lekin shohar apni bivi se utni mohabbat na kare aur naa hi apni biwi ko ijzat de to aisa rishta bahut jaldi khatam ho jayega. bahut se shohar hote hai jo ki bahut hi garm dimaag ke aur chhoti si baat pe apni biwi pe gussa ho jaate hai. jab wo gussa ho jaate hai to unka saara gussa apni biwi pe nikalata hai aur wo apni hi biwi ko bejzat karte hai.

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua

isi wajah se bahut se rishte toot jaate hai kyonki shohar apni biwi ki ijzat nahi karte hai. bahut se shohar to itne zaalim hote hai ki wo apni biwi pe haath bhi utha dete hai. aise zaalim shohar ke saath biwi apni sari jindgi nahin gujaar sakti hai. aise mein biwi ko chahiye ki wo zaalim shohar ke liye wazifa padhe| biwi ko chhiye ki wo din raat shohar ko sirf apna banane ki dua karen aur unke gusse ko kam karne ki allah se iltija karen| agar biwi ko shohar ko apna karna hai to usko shohar ko sirf apna banane ki dua, din-raat bina koi naagah kiye, padhna hoga. shohar ko apna karna har biwi chahti hai.

aise hi shohar ko gulaam banane ka taaveez bhi aata hai. Zalim shohar apni biwi ki zindgi ko jahnum bana dete hai. aese shohar ke sath biwi ka ek din gujarna muskil ho jata hai aakhir roz roz ke ladai-jagde maar-peet biwi kab tak saheegi. aese me biwi pareshan hokar khud-khushi karne ko tyar ho jaati hai agar aapke shohar bhi bhut zalim hai to aap pareshan naa ho hum aapke liye zalim shohar ko apna gulam banane ka wazifa lekar aaye hai. ye wazifa karne se zalim se zalim shohar ka dil pighal jayega aur wo aapka mureed ban jayega aur wesa hi karega jaisa aap chahti hai.

महबूब से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा

वो मेहबूब या शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा,” असलम वालेकम दोस्त, अपनी ज़िंदगी में भूत जरुरी होता है के जिनसे हम प्यार करते हैं जिनसे हम रिश्ता रखते हैं या फिर हर वो हमरा ज़िश करे हमारी छोटी से छोटी बात को तवाज्जो दे हमारी हर बात को दिल से सुनने और माने। चाह वो आप महबूब हो शोर हो आपके बचे हो आपके सास सरूर भाई बहन भाभी नानद चाहे कोई भी ऐसे हलत में आप अपनी बात मनवाने का अमल और दुआ परहे। ये दुआ भुत ही पावरफुल और असरदार है ये दुआ आप रोज पारे, और पाक नियात से।

अगर आपका शोर आपकी कोई बात नहीं मानता और आपकी इज्ज़त नहीं करता है आपकी किसी भी बात को तवज्जो नहीं देता या फिर आपकी कोई भी बात नहीं सुनता सिर आपकी सास की बात में दोबारा आता है। तो आप शोर से अपनी बात मनवाने की दुआ परहे ये दुआ भुत ही असरदार है जो आपके शोर के मिजाज को बदलने की तकत रखती है। क्या हम दुआ को परहने के बाद आपके शोर ना सिरफ आपकी बात मनगे बाल्की आपके शोहर आप से करेंगे और आपकी हर बात सुनेंगे दुआ को परहने से जो भी शक्श जिसे आप अपनी चाहत बात है हाय करेगा

महबूब से अपनी हर बात मनवाने की दुआ

  • ये दुआ आप किसी भी वक्त पर शक्ति है।
  • आप परहे “इनल लहा उसमेउ मन यशो” १५ मरतबा।
  • और जिससे अपनी बात मनवानी हो, उसके ऊपर दम करदे
  • और रोज़ परहे और तब तक परहे,
  • जब तक वो आपकी बात के लिए रजी ना हो जाए।
  • इंशा अल्लाह, कुछ ही वक्त में वो आपकी बात मान जाएंगे।
  • ये दुआ 100% हलाल है और क़ुरानी आयतों से ली गई है।

केई बार जिंदगी में ऐसे हलत पाया हो जाते हैं, जब हम चाहते हैं की सिर्फ हमारी बात ही मान जाएंगे। हम यही चाहते हैं की जो हम कह रहे हैं उसे तरजीह मिले और सब लोग हमारी बात सुन ले। अगर आपकी जिंदगी में भी ऐसा कोई दिन आया है तो आप किसी से अपनी बात मनवाने की दुआ का इस्तमाल करे। इंशा अल्लाह, ये बात मनवाने की दुआ आपके लिए बेहद मुफीद सबित होगा और आप जैसा होगा वैसा हो जाएगा। अक्सर लोग आपको छोटा समझ कर आपकी बात पर ज्यादा तरजीह नहीं देते। केई बार आपके जाने आपको बचाते हैं और आपके सलाहों को इतनी अहमियत नहीं देते हैं।

महबूब से अपनी हर बात मनवाने का अमल

ऐसे हाल में आप अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा ज़रूर करे और सबकी नज़र में अपनी बात की अहमियत दिया करे। अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा आपको अपना रस मनवाने में बहुत मदद करेगा सबित होगा। आप किसी से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा को अपनी बात को कहने से पहले या कहने के बाद कभी भी परह सकते हैं। इंशा अल्लाह, आपकी बात उनके दिल में घर कर जाएगी और वो उसे मान ने पर मजबूर हो जाएंगे। हलकी, किसी से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा की एक शार्प ये है की आपकी बात जायज़ और हलाल होनी चाहिए, नहीं तो ये वज़ीफ़ा बिलकुल काम नहीं करेगा।

इसी तरह से अगर आपके मतलूब आपकी किसी भी बात को मान ने से इनकार कर रहे हैं या फिर आपसे शादी करने के लिए रजी नहीं है तो आप किसी से अपनी बात मनवाने का वजीफा परहे और अल्लाह ताला से। इंशा अल्लाह वो बहुत जल्दी खुद ब खुद आपके लिए होंगे। आगर आपके शोर आपको बेकर या बड़-अकाल समजते हैं और आपकी कोई बात नहीं माने या तारजीह नहीं देते तो आप शोर से बात मनवाने की दुआ अल्लाह मिया से करे। इंशा अल्लाह, आपके शोहर आपकी हर बात मान ने लगेंगे। वो आपको घर की मुर्गी समाधान की बजेय एक हम दर्द समझेंगे और आपकी हर मसले पर राय लेंगे।

शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा

शोहर से बात मनवाने की दुआ आपके शोर का दिमाग बदल देगी और वो आपकी हर बात को इज्जत देंगे। आप शोर से बात मनवाने की दुआ हमारे मोलवी सब के ज़रीये ले सकते हैं। अगर आपको कुरान और हदीस की ज्यादा मालूमत नहीं है तो हमारे मोलवी सब आपकी बेहतर मदद करेंगे। आप किसी से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा किसी भी मसले में इस्तमाल कर शक्ति है। चाह वो आपके महबूब का हो, फिर चलने का, फिर आपके करोबार का। ये वज़ीफ़ा हर जगह आपके काम आएगा। अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा आला दिया गया है। चाह वो बात आपके आप के रिश्ते की हो फिर करोबारी।

शादी को तबी कामयाब कहा जाएगा जब शोहर अपनी बीवी से मोहब्बत करे और उसे पूरी इज्जत दे। यह कहा जाता है के ताली कभी भी एक हाथ से नहीं बजाई जाती है अगर सिरफ बीवी अपने शोहर से मोहब्बत करे और अपने शोर को इज्जत दे लेकिन शोर अपनी बीवी से उतनी मोहब्बत न करे और फिर जल्दी खतम हो जाएगा। बहुत से शोर होते हैं जो की बहुत ही गर्म दीमाग के और छोटी सी बात पे अपनी बीवी पे गुस्सा हो जाते हैं। जब वो गुस्सा हो जाते हैं तो उनका सारा गुसा अपनी बीवी पे निकलता है और वो अपनी ही बीवी को बेज्जत करते हैं।

शोहर से अपनी हर बात मनवाने की दुआ

इसी वजह से बहुत से रिश्ते टूट जाते हैं क्योंकि शोहर अपनी बीवी की इज्जत नहीं करते हैं। बहुत से शोर तो इतने ज़ालिम होते हैं की वो अपनी बीवी पे हाथ भी उठा देते हैं। ऐसे ज़ालिम शोर के साथ बीवी अपनी सारी ज़िंदगी नहीं गुज़र सकती है। ऐसे में बीवी को चाहिए की वो ज़ालिम शोर के लिए वज़ीफ़ा पढ़े| बीवी को छिये की वो दिन रात शोर को सिरफ अपना बनाने की दुआ करें और उनके गुसे को काम करने की अल्लाह से इल्तिजा करें| अगर बीवी को शोर को अपना करना है तो उसे शोर को सिरफ अपना बनाने की दुआ, दिन रात बिना कोई नागा किया, पढ़ना होगा। शोर को अपना करना हर बीवी चाहता है।

ऐसे ही शोर को गुलाम बनाना का तावीज भी आता है। जालिम शोर अपनी बीवी की जिंदगी को जहनुम बना देते हैं। ऐसे शोर के साथ बीवी का एक दिन गुजरा मुश्किल हो जाता है आखिरी रोज के लडाई-जगदे मार-पीट बीवी कब तक सहीी। ऐसे में बीवी परशान होकर खुद-खुशी करने को टायर हो जाति है अगर आपके शोहर भी भूत ज़ालिम है तो आप परशान ना हो हम आपके लिए ज़ालिम शोर को अपना गुलाम बनाने का वज़ीफ़ा लेकर आया। ये वज़ीफ़ा करने से ज़ालिम शोर का दिल पिघल जाएगा और वो आपका मुरीद बन जाएगा और वेसा ही करेगा जैसा आप चाहता है।

किसी को अपना दीवाना करने का अमल · किसी को अपना दीवाना करने का वज़ीफ़ा · किसी को अपना दीवाना करने की दुआ · शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान अमल · शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान दुआ · शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान वज़ीफ़ा · KISI KO APNA DEEWANA KARNE KA AMAL · Kisi Ko Apna Deewana Karne Ka Wazifa · Kisi Ko Apna Deewana Karne Ki Dua · Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Amal · Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Dua · Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Wazifa

Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Amal – शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान अमल

Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Amal

Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Aasan Amal ,” har ladki ka sapna hota hai ke uska shohar usse mohabbat kare uski ejjat kare aur uski har baat mane kyunki shohar ka pyar hi biwi ke liye sab kuch hota hai miyan biwi me ek dusre ke liye mohabbat hi ek shadi shuda zindgi ko roshan karta hai lekin bhut baar aesa hota hai kisi karan miya biwi mein ladai jagda rahtah ia aur shohar apni biwi ki koi bhi baat nahi sunta yaa biwi kki baat ko tawajju nahi deta hai to to aapko chahiye ke aap shohar ko apna banane ka amal kare. aapki dua allah tak nahi pahunchti aur aapki dua kabool nahi hoti.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

ye amal bhut asardaar aur kamyaab hai is amal ko karne ke baad aapka shohar aapki har baat manega aur aap dono me mohabbat paida ho jayegi bhut baar aesa hota hai ke miyan-biwi mein choti choti baat ko lekar masla rahta hai aur dono mein pyar-mohabbat kam hone lagti hai jiski wajah se miya biwi ek dusre se alag hone ki soch lete hai aur baat talaq tak pahunch jati hai. Apni Sachi Mohabbat Ko Pane Ki Dua isliye biwi apne shohar ko kabu mein karne ka wazifa yaa dua padhti hai aur allah se dua karti hai ke uska shohar sahi rahe-rastey par aa jaye aur usse mohabbat karne lage lekin bhut baar aesa hota hai ke kisi wajah se.

Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Wazifa

  • Shohar ki Mohabbat Hasil Karne Ka Sabse Aasan Wazifa
  • Sabse phle Taza wudu bana lijiye.
  • zameen par jakar beth jaiye par wo zameeen saaf honi chahiye.
  • Awal durood shareef 11 bar parhiye.
  • Iske baad bismillah shareef ka 101 bar parhiye,
  • ye 21 dino tak roz raat ko karna hai.
  • Aur Allha Tala se dua kre Insha allah aap isme jarur kamyab honge.
  • Jaiz Ke Waqt Ye Wazifa Karna Mana Hai
  • Aur Ye Wazifa yaa Amal Karne Se Pahle ek Baar Humse Ijjat Jarur Le.
  • Bina Ijajat Wazifa Karna Mana Hai

Shohar Ko Apna Banane Ka Asan Amal. isliye hum aapke liye ke aesi asardaar dua or amal lekar aaye hai jisse aap apne shohar ko apne kabu mein kar skte hai use apna gulaam bna skti hai ye wazifa 100% halal hai is wazifa yaa amal ko karne ke baat aap dono me kabhi naa khatam hone wali mohabbat paida ho jayegi aur aapka shohar wahi karne jo aap kahengi. Aaj ke samay mein shohar ke pyar ke liye dua ek biwi karti hai ki, Uske shohar ka pyar uske liye kabi kam na ho. Kyoki kuch karan se shohar apni biwi ki baat ka amal nhi karta hai, jisse ghar primary har roz ladai jagare badte rahte hai.

Shohar Ko Apna Banane Ka Sabse Asan Dua

Ye jagare talak tak aa rukte hai, har biwi sochti hai ki shohar ko kabu mein kese kiya jaye, biwi chahti hai ki uska shohar uska hello gulam boycott jaye. Aur wo usko apna banane ke liye dua or nawaz padti hai. Standard uske babujud bhi masle ka hal nhi niklta hai. aur wo shohar ko kabu me nhi kar sakti hai. shohar ko kabu principle karne ka wazifa minor pass hai. Primary jo dua karta hu wo dua allah ko kabul hoti hai. Meri Amal me inta jyada asar hai ki apka shohar hamesha ke liye sirf apka hello gulam boycott jayega. Ghar ke sabhi parkar ke ladai jagare sab khatam ho jayege.

Meri amal inta asar hai ki apki shohar ki mohabbat kuch greetings dino me apki pass jo jayegi. Yeh baation jaydatar ek biwi ke dil aur dimak me hoti hai, yeh sabhi baation sirf meri howdy dua se puri ho sakti hai. Insha allah Aur fir se apki mohabbat apko kadmo me hogi. biwi ke man mein ye baat bhi hoti hai ki apne shohar ko kisi tarah se kush kiya, jisse wo biwi ki sabhi baat mane. Iska bhi tor negligible pass hai. Is cheez ka amal hota hai jo fundamental apko dunga. ye amal azmaya hua amal hai. Amal Bhut hello sundar aur asan amal hai. Ye amal sirf 11 dino ka hai. Is amal ko karne standard apka shohar sirf apka greetings boycott jayega.

Kisi Ko Apna Deewana Karne Ka Amal

As-salamu Alaykum..hamare paas miyan biwi ke masle se relative bhut se calls aur sms aate hai jaise shohar apni biwi se mohabbat mahi karta yaa phir shohar apni biwi ki koi baat nahi sunta aur apni biwi ki kisi baat ko tawajju nahi deta yaa phir shohar apne gharwalo ki bataon me aakar apni biwi se ladayi jhagra karta hai yaa phir shohar apni biwi ko waqt nahi deta gair auraton ke chakkar me rahta hai. samman de aur uski har baat maane lekin kuch shohar aese mein aaj hum aapke liye ek aisa taqatwar amal lekar aaye hai jiski madad se aap apne shohar ko apna bana skti hai apne shohar ko apna mureed kar skti hai.

Shohar Ko Apna Banane Ka Taqatwar Amal behad asardaar aur azmaya hua amal hai is amal ko karne ke baad aapka shohar aapka mureed ho jayega aur jaisa aap kahegi waisa hi karega
har ladki ka sapna hota hai ke shadi ke baad uska shohar usse behad mohabbat kare uska khayal rakhe usko ejjat shakht mijaz ke hote hai aur wo apni biwi ko bewajh nazar-andaz karte hai aur apni biwi ka khayal nahi rakhte aur apni biwi ko apne se door rakhte hai aur biwi ko shadi shuda jindgi ka sukh nahi dete aise mein biwi ko chahiye ke wo Shohar Ko Apna Banane Ka Amal In Hindi karen.

Kisi Ko Apna Deewana Karne Ka Wazifa

ye mujarab amal hai is amal ke asaraat se aapke shohar ke dil me aapke liye mohabbat paida ho jayegi aur aapka shohar aapka gulam ban jayega. Aam Taur Per Aamileene Taskheere Hamzad Ko Hidayat Hoti Hai Ki Woh Kisi Sunsaan Makaam Par Jaa Kar Apna Amal Shuru Kiya Kare, Lekin Hamare Is Amal Hamzad Mei Aamila Ko Kahi Bahar Jane Ki Zaroorat Nahi Hai. Aamila Apne Liye Alaa’hadaa Kamre Ka Imtiyaaz Kare Ya Na Kare Subah Sawere Charpayi Se Uth Te Waqt Aaftab(sun) Uski Nazro Ke Saamne Hi Aur Wah Lete Hi Lete Surah Se Ankhe Char Kar Sake. par dono ko bulne ka tarika ek hi hota hai.

15 Minute Tak Suraj Ki Taraf Dekhne Ke Baad Apne Pairo Per Nigah Daale, 5 Minute Baad Nazar Phir Suraj Per Jama Le Is Tarah Ek Ghanta Tak Karti Rahe.Kuch Arsa Baad Aamila Ko Asmaan Per Pahle Siyah Aur Phir Safed Dhabba Nazar Ayega Jo Roz Baroz Phailta Chala Jayega, Yeh Dhabba Use Apne Pairo Per Bhi Nazar Aane Lagega. 3 clamor ka under lazme hamzad baat karta ha agar aapko 3 dino ke under kamyab nahi hote to isko 40 dino tak kareen lagatar, Agar jo be commotion miss ho wo akhir ka commotion principle include kar ka finish kar le. Hamzad ko pass bulane ka sabse asan amal aur tarika mere pass hai.

Kisi Ko Apna Deewana Karne Ki Dua

Shohar ko apna banane ka asan amal, “Aaj ke samay mein shohar ke pyar ke liye dua ek biwi karti hai ki, Uske shohar ka pyar uske liye kabi kam na ho. Kyoki kuch karan se shohar apni biwi ki baat ka amal nhi karta hai, jisse ghar primary har roz ladai jagare badte rahte hai. Ye jagare talak tak aa rukte hai, har biwi sochti hai ki shohar ko kabu mein kese kiya jaye, biwi chahti hai ki uska shohar uska hey gulam boycott jaye. Aur wo usko apna banane ke liye dua or nawaz padti hai. Standard uske babujud bhi masle ka hal nhi niklta hai. aur wo shohar ko kabu me nhi kar sakti hai. shohar ko kabu primary karne ka wazifa unimportant pass hai.

jo main apko dunga ye amal itna takatvar hai ki aap kisi ko apne bas me kar sakte hai, hamzad aur jinn dono alag hote hai. Jinn aur Hamzad ke amal, wazifa se aap kisi bhi insaan ko apna gulam bana sakte hai. Agar apko hamzad ya jinn ke bare main mokamal detail chahiye to aap call kar sakte hai. Fundamental jo dua karta hu wo dua allah ko kabul hoti hai. Meri Amal me inta jyada asar hai ki apka shohar hamesha ke liye sirf apka greetings gulam boycott jayega. Ghar ke sabhi parkar ke ladai jagare sab khatam ho jayege. Meri amal inta asar hai ki apki shohar ki mohabbat kuch hello there dino me apki pass jo jayegi.

शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान अमल

शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान अमल, “हर लड़की का सपना होता है के उसका शोर उससे मोहब्बत करे उसमें इज्जत करे और उसे हर बात माने क्यूंकी शोर का प्यार ही बीवी के लिए सब कुछ होता है एक दुसरे बीवी के लिए सब कुछ होता है हाय एक शादी शुदा जिंदगी को रोशन करता है लेकिन भूत बार ऐसा होता है किसी करना मियां बीवी में लडाई जगदा रहत या और शोर अपनी बीवी की कोई भी बात नहीं सुनता या बीवी की बात है तो क्या बात है को अपना बनाने का अमल करे। आपकी दुआ अल्लाह तक नहीं पूँछती और आपकी दुआ कबूल नहीं होती।

ये अमल भूत असरदार और कामयाब है, अमल को करने के बाद आपका शोहर आपकी हर बात और आप दो में मैं मोहब्बत चुका हो जाएगी भूत बार ऐसा होता है के मियां-बीवी में छोटी को छोटी को मोहब्बत कम होने लगी है जिसके कारण से मिया बीवी एक दसरे से अलग होने की सोच लेते हैं और बात तलाक तक पांच जाति है। इस्लिये बीवी अपने शोर को कबू में करने का वज़ीफ़ा या दुआ पढी है और अल्लाह से दुआ करता है कि उसका शहर सही रहे-रस्ते पर आ जाए और उससे मोहब्बत करने लगे लेकिन भूत बार ऐसा से होता है।

शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान वज़ीफ़ा

  • शोहर की मोहब्बत आसान करने का सबसे आसान वज़ीफ़ा
  • सबसे फले ताजा वुदु बना लिजिये।
  • ज़मीन पर जकार बेथ जाये पर वो ज़मीन साफ ​​होनी चाहिए।
  • अवल दुरूद शरीफ 11 बार परहिये।
  • इस्के बाद बिस्मिल्लाह शरीफ का 101 बार परहिये,
  • ये 21 दिनो तक रोज रात को करना है।
  • और अल्ला ताला से दुआ कर इंशा अल्लाह आप इसमे जरुर कामयाब होंगे।
  • जैज़ के वक़्त ये वज़ीफ़ा करना मन है
  • और ये वज़ीफ़ा या अमल करने से पहले एक बार हम से इज्जत जरूर ले।
  • बिना इज्जत वज़ीफ़ा करना मन है

शोहर को अपना बनाने का आसन अमल। इसलिये हम आपके लिए के ऐसी असरदार दुआ या अमल लेकर आए हैं जिससे आप अपने शोहर को अपने कबू में कर सकते हैं, अपना गुलाम बना सकते हैं, ये वजीफा 100% हलाल है वजीफा में ही अमल के लिए वजीफा है। होने वाली मोहब्बत चुका हो जाएगी और आपका शोर वही करने जो आप कहेंगे। आज के समय में शोर के प्यार के लिए दुआ एक बीवी कारती है की, उसके शोर का प्यार उसके लिए कभी कम ना हो। क्योकी कुछ करन से शोर अपनी बीवी की बात का अमल नहीं करता है, जिससे घर प्राथमिक हर रोज लड़ जगारे बढ़ते रहते हैं।

शोहर को अपना बनाने का सबसे आसान दुआ

ये जगारे तलाक तक आ रुकते हैं, हर बीवी सोचती है की शोर को कबू में केसे किया जाए, बीवी चाहती है कि उसका शोर उसका हैलो गुलाम बॉयकॉट जाए। और वो हमें अपना बनाना के लिए दुआ या नवाज पड़ी है। स्टैण्डर्ड उसके बाबूजुद भी मसले का हल नहीं निकलता है। और वो शोर को कबू में नहीं कर सकती है। शोर को कबू सिद्धांत करने का वज़ीफ़ा माइनर पास है। प्राथमिक जो दुआ करता है वो दुआ अल्लाह को काबुल होती है। मेरी अमल में इतना ज्यादा असर है कि आपका शोर हमेश के लिए सिरफ आपका हैलो गुलाम बायकॉट जाएगा। घर के सभी पार्कर के लड़े जगारे सब खतम हो जाएंगे।

मेरी अमल इंता असर है की आपकी शोहर की मोहब्बत कुछ बधाई दिनों में आपकी पास जो जाएगी। ये बात जयदाता एक बीवी के दिल और दिमाक में होती है, ये सब कुछ सिर्फ मेरी कैसे दुआ से पूरी हो सकती है। इंशा अल्लाह और फिर से आपकी मोहब्बत आपको कदमों में होगी। बीवी के मन में ये बात भी होती है कि अपने शोहर को किसी तरह से कुश किया, जिससे वो बीवी की सबी बात माने। इस्का भी तोर न के बराबर पास है। क्या चीज का अमल होता है जो मौलिक आपको दूंगा। तु अमल आजमा हुआ अमल है। अमल भुत हैलो सुंदर और आसन अमल है। ये अमल सिरफ 11 दिनो का है। क्या अमल को करने का मानक आपका शोहर सिर्फ आपका अभिवादन जयेगा का बहिष्कार है।

किसी को अपना दीवाना करने का अमल

जैसे-सलामु अलयकुम.. हमारे पास मियां बीवी के मसले से रिश्तेदार भूत से कॉल और एसएमएस आते हैं जैसे शोहर अपनी बीवी से मोहब्बत माही करता या फिर शोर अपनी बीवी की कोई बात नहीं सुनता और अपनी बीवी की कोई बात नहीं सुनता और अपनी बीवी फिर शोर अपने घरवालो की बातो में आकार अपनी बीवी से लड़ी झगड़ा करता है या फिर शोर अपनी बीवी को वक्त नहीं देता है औरतों के चक्कर में रहता है। सम्मान दे और उसकी हर बात माने लेकिन कुछ शोर ऐसे में आज हम आपके लिए एक ऐसा तकतवार अमल लेकर आए हैं जिसी मदद से आप अपने शोर को अपना बनाना स्कटी है अपने शहर को अपना बनाया है।

शोहर को अपना बनाने का तकतवार अमल बेहद असरदार और अजमाया हुआ अमल है तो अमल को करने के बाद आपका शोर आपका मुरीद हो जाएगा और जैसा आप कहेगा वैसा ही करेगा
हर लड़की का सपना होता है। मोहब्बत करे उसका ख्याल रखा उसे इज्ज़त शक्ट मिजाज़ के होते हैं और वो अपनी बीवी को बेवज नज़र-अंदाज़ करते हैं और अपनी बीवी का ख्याल नहीं रखते और अपनी बीवी को अपने से दूर रखता है। में बीवी को चाहिए के वो शोहर को अपना बनाने का अमल इन हिंदी करेन।

किसी को अपना दीवाना करने का वज़ीफ़ा

ये मुजरब अमल है अमल के असर से आपके शोहर के दिल में आपके लिए मोहब्बत चुका हो जाएगी और आपका शोहर आपका गुलाम बन जाएगा। आम तौर पर आमिलीन तस्कीर हमजाद को हिदायत होती है की वो किसी सुनसान मकाम पर जा कर अपना अमल शुरू किया करे, लेकिन हमारे इस अमल हमजाद में आमिला को कहीं बाहर जाने की जरूर नहीं है। आमिला अपने लिए अलाहदा कामरे का इम्तियाज करे या ना करे सुबह सवेरे चारपाई से उठ ते वक्त आफताब (सूरज) उसकी नजरो के सामने ही और वह लेते ही लेटे सूरह से आंखे चार कर सके। पर दोनो को बुलने का तारिका एक ही होता है।

15 मिनट तक सूरज की तरफ देखने के बाद अपने पैरो पर निगाह डाले, 5 मिनट बाद नजर फिर सूरज पर जमा ले इस तरह एक घंटा तक कार्ति रहे। फैलता चला जाएगा, ये ढाबा प्रयोग अपने पैरो पर भी नजर आने लगेगा। ३ कोलामर का लज़्मे हमजाद बात करता है अगर आपको ३ दिनो के अंडर कामयाब नहीं होते तो इस्को ४० दिनो तक करें लगार, आगर जो हो हंगामा मिस हो वो अखिर का हंगामा सिद्धांत शामिल कर का खत्म कर ले। हमजाद को पास बुलाने का सबसे आसन अमल और तारिका मेरे पास है।

किसी को अपना दीवाना करने की दुआ

शोहर को अपना बनाना का आसन अमल, “आज के समय में शोर के प्यार के लिए दुआ एक बीवी कारती है की, उसके शोर का प्यार उसके लिए कभी कम ना हो। क्योकी कुछ करन से शोर अपनी बीवी की बात का अमल नहीं करता है, जिससे घर प्राथमिक हर रोज लड़ जगारे बढ़ते रहते हैं। ये जगारे तलाक तक आ रुकते है, हर बीवी सोची है की शोर को कबू में केसे किया जाए, बीवी चाहती है कि उसका शोर उसका हे गुलाम बॉयकॉट जाए। और वो हमें अपना बनाना के लिए दुआ या नवाज पड़ी है। स्टैण्डर्ड उसके बाबूजुद भी मसले का हल नहीं निकलता है। और वो शोर को कबू में नहीं कर सकती है। शोर को कबू प्राथमिक करने का वज़ीफ़ा महत्वहीन पास है।

जो मैं आपको दूंगा ये अमल इतना शक्तिशाली है की आप किसी को अपने बस में कर सकते हैं, हमजाद और जिन्न दो अलग होते हैं। जिन्न और हमजाद के अमल, वज़ीफ़ा से आप किसी भी इंसान को अपना गुलाम बना सकते हैं। अगर आपको हमजाद या जिन्न के नंगे मैं मोकमल डिटेल चाहिए तो आप कॉल कर सकते हैं। मौलिक जो दुआ करता है वो दुआ अल्लाह को काबुल होती है। मेरी अमल में इतना ज्यादा असर है कि आपका शोर हमेश के लिए सिर्फ आपका अभिवादन गुलाम बायकॉट जाएगा। घर के सभी पार्कर के लड़े जगारे सब खतम हो जाएंगे। मेरी अमल में असर है की आपकी शोहर की मोहब्बत कुछ हैलो वहाँ दिनो में आपकी पास जो जाएगी।

Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ka Amal · Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ka Wazifa · Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ki Dua · Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Amal · Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Wazifa · Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ki Dua

Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Wazifa – शोहर या बीवी के दरमियान नफ़रत ख़तम करने का वज़ीफ़ा

Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Wazifa

Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Wazifa ,” Alaikum Assalam, shohar or biwi k darmiyan bewajah ke ikhtalafat or baat baat par larai ko khatam karnay ke liye rozana Surah Fatah ki aakhri Ayat 41 martaba pani par dam kar k dono pee lein 7 din tak or “Ya Wadoodu” 1000 martaba Jumerat ko namak ya cheeni par dam kar lein or ghar mein istamal karein sirf 1 martaba Insha Allah shohar or biwi k darmiyan mohabbat mein izafa hoga or ikhtalafat khatam ho jayengay. Is wazifa ko parhne ke baad dheere dheere apke shohar apse mohabbat karne lagenge aur apko izzat aur tarjeeh denge.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

Shohar ki nafrat khatam karne ka tarika ye hai Shohar ki nafrat khatam karne ka amal bahot si aurton ke liye faydemand sabit hua hai aur iski wajah se kitni sari aurton ne apni shadi ko bacha liya hai aur aaj apne shohar ke sath khush hai. Aur Allah se dua kare ki wo aapke shohar ka dil pighla de aur aap dono mein mohabbat paida karde aur aapke shohar ki nafrat ko har haal mein khatam karde. Aap unko apni shadi shuda zindagi ki sari baatein bataye wo apki har baat ko raaz rakhenge aur apko biwi ki nafrat khatam karne ke liye taweez de denge. Aap dono ke beech ki takraar khatam hogi is taweez ko pehenne ke baad.

Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ki Dua

  • Is amal ko aap Insha ki namaz ke baad kare.
  • Sabse pehle wazu karle.
  • Phir 11 kali mirch ke daane le.
  • Sabse pehle 3 martaba Durood Shareef parhe.
  • Akele kamre mein aap ye dua parhe “Ya Wadoodo Ya Lateefu”
  • Isko aap 2100 martaba parhe.
  • Aakhir mein 3 martaba Durood Shareef parhe.
  • Aur kaali mirch pe dum karde.
  • Aur inko aag laga de.
  • Is amal ko bina naaga 40 dino tak kare.
  • Insha Allah, apke shohar ki nafrat khatam ho jayegi
  • aur aap dono har buri nazar se bache rahenge.

Har ghar mein chote chote jhagde toh hote rehte hai par jab ye jhagde bada roop le le toh ghar ke halat bigadne lagte hai khas taur par jab biwi hi naraz ho. Aise mein dil mein nafrat hona lazmi hai. Aise mein aap fikar na kare. Aap biwi ki nafrat khatam karne ka wazifa ko parh sakte hai. Is wazife se apki biwi ki nafrat ko pyar me tabdeel kar sakte hain. Biwi ki nafrat khatam karne ka wazifa ko parhne se apke ghar me sukoon aur aman hoga aur aap dono me sulah ho jayegi. Biwi ki nafrat khatam karne ke liye taweez pehnne se aap dono ke beech ke fasle door honge aur dil mein mohabbat paida hogi.

Shohar or Biwi Ke Darmiyan Nafrat Khatam Karne Ka Amal

Agar apke ghar me aye din kisi na kisi baat par ladai jhagde hote rehte hai toh aap biwi ki nafrat khatam karne ka tarika kar sakte hain. Biwi ki nafrat khatam karne ka tarika ko karne se aap dono ke beech ke ittelaaf khatam honge aur dono ke dil mein mohabbat jagegi. Is tarike ko karne se apki biwi ke dil mein jo apke liye nafrat paida ho gayi hai wo jald hi dur hogi aur aap dono e khushnuma zindagi jee payenge. Aap dono ek dusre ke sath pyar se rehenge aur ek behtar zindagi jee payenge. Insha Allah aap dono ek khushnuma zindagi beeta payenge aur ek dusre ke sath khush rahenge.

Agar apke ghar ke halat nahi badal rahe aur apki biwi apse roz jhagde kar rahi hai to aapke lakh manane par bhi wo nahi man rahi toh aap humare Molana saheb se mil sakti hain. Humare Molana saheb apko biwi ki nafrat khatam karne ka taweez de dengi jisse aap turant unke dil mein apne liye mohabbat paida karne me amal ho sakenge. Biwi ki nafrat khatam karne ka wazifa ko parhne se pehle Allah Talah par bharosa rakhe. Agar apki biwi fir bhi nahi maan rahi toh turant humare Molana saheb se mile aur mashwara le. Is wazife ki madad se aap apni shadi shuda zindagi ko behtar bana sakenge.

Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ki Dua

ye wazifa miya biwi me mohabbat paida krne ke liye hai agar aap chahte hai ke aapki shadi shuda zindgi khushaal rahe aap dono me hamesha mohabbat kayam rahe toh aapko chahiye ke aap miya biwi me mohabbat badhane ka ye wazifa karen. ye wazifa bhut hi mujarab aur taqatwar hai. is wazifa ko karne se miyan biwi me kabhi naa khatm hone wali mohabbat paida ho jayegi bhut baar dekha jaat hai ke shadi ke kuch waqt baad miya biwi me pyar mohabbat kam ho jaati hai yaa kisi wajah se dono me larai jagda rahta hai yaa kisi wajah se miya biwi me narazgi paida ho gayi hai to miya biwi me mohabbat paida karne ka amal parhne.

InshaAllah ye amal parhne ke baad dono me nafrat khatam ho jayegi aur ek dusre ke liye mohabbat paida ho jayegi Agar aap miyan biwi ke beech mein kisi ne galat fehmi paida kar di hai yaa jiski wajah se aap dono me darmiyan narazgi yaa nafrat paida ho gayi hai yaa kisi gair aurat ke karn aapka shohar aapki kader nahi karta hai aapki koi baat nahi sunta hai aur aapse mohabbat nahi karta hai toh aapko chahiye ke aap shohar ki mohabbat paane ka wazifa parhe. ye wazifa parhne se aapka shohar gair aurat ko chohar aapke paas aa jayega aur aapko pahle ki tarah mohabbat karega.

Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ka Wazifa

Miyan aur Biwi Mein Narazgi Khatam Karne Ki Dua From Quran ,” aaj kal miya biwi me narazgi se relative bhut se phone aur sms aate hai , miya biwi ka aapas me lagda hona , miya biwi me narazgi , shohar ka baat baat par gussa hona , shohar ka biwi par hath uthana , shohar ka biwi ki baat naa manna , miya biwi me baat baat par jadga hona , miya biwi me nafrat hona , shohar ka apni biwi ki baat na sunna ,, aese bhut se masle aate hai iske liye hum aapke liye ek shohar ki narazgi door karne ki dua lekar aaye hai , ye dua parhne se aap apne shohar ke dil me kabhi na khatam hone wali mohabbat paida kar skti hai

Miya biwi ka rishta jitna majbot hota hai utna hi nazuk bhi hota hai aksar miya bhi ki soch ek jaisi nahi hoti nayi nayi shadi ke baad miya biwi me ek dusre ko samjhne me samay lagta hai aur isi wajah se dono me missunderstanding ke karan bahas hona aam baat hai Agar aapke shohar aur aap mein kisi baat pe behes ho gayi hai aur wo aapse naraz hai toh aap shohar ki narazgi door karne ki dua parhe. Is dua se aap dono ke darmiyan job hi masle hai wo sab hal ho jayenge aur aapke shohar aapse kabhi bhi naraz nahi honge toh aap turant shohar ki narazgi dur karne ki dua parhe.

Nafrat Ko Pyar Mein Badlne Ka Amal

Ye dua bhut hi asardaar aur kamyab hai jo aapko pura fayda pahuchayegi , ise parhne se naa sirf miya biwi me narazgi khatam hogi balki aapke shohae ke dil me kabhi naa khatam hone wali mohabbat paida ho jayegi jaisa aap chahengi aapka shohar wese hi aapki baat manega aur dusri auraton ke chakkar se bhi door rahega is dua ko padhne se miya ke dil se badi se badi nafrat khatam ho jayegi Kabhi kabhi kuch shohar bahot hi garam mijaz ke hote hai aur unko apni biwi ki choti choti baton pe gusa aa jata hai. Agar aapke shohar apki har choto baat pe gusa ho jate hai aur naraz rehte hai.

Agar aap kisi se beintehaan pyar karte hai par wo apki kadar nahi karta to aap is dua ko parhe. Aksar shadi shuda zindagi mein miya biwi ke darmiyan aise halat paida ho jate hai. Ye jhagde kabhi kabhi talaq tak pahuch jate hai. Aise naubat se bachne ke liye aap nafrat ko pyar mein badalne ki dua parh sakte hai. Is dua se unki nafrat pyar me badal jayegi aur wo apse bepanah pyar karne lagenge. Nafrat ko pyar mein badalne ki dua se do logo ke beech ke ittelaf door honge. Kisi ko nafrat ko pyar me badalne ka sabse asan wazifa hai ye. Kayi baar ghar me aisi ladaiyan hoti hai ki ghar ka mahol kharab ho jata hai. 

किसी से अपनी बात मनवाने का अमल · किसी से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा · किसी से अपनी बात मनवाने की दुआ · शोहर से अपनी हर बात मनवाने का अमल · शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा · शोहर से अपनी हर बात मनवाने की दुआ · Kisi se Apni Baat Manwane Ka Amal · Kisi se Apni Baat Manwane Ka Wazifa · Kisi se Apni Baat Manwane Ki Dua · Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal · Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa · Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal – शोहर से अपनी हर बात मनवाने का अमल

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Wazifa

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal In Hindi ,” har shaksh chahta hai ke jisse bhi wo pyar karta hai yaa uske ghar pariwaar wale uski kahi baat mane aur uski har baat ko tawajju de kyunki insaan ko bhut bura lagta hai jab wo kisi se apni baat kahe aur samne wala uski baat ko tawajju naa de. agar aapke sath bhi aesa hai to aap fikar naa kar. agar aap kisi se apni jaiz baat manwana chahte hai aur samne wala jaanbujkar nahi maan raha hai to aap apni baat manwane ka wazifa parhe. ye wazifa bhut asardaar hai aur samne wala aapki har baat manne ko majbur ho jayega aur aapki har baat ko tawajju bhi dega.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

kuch shohar aese hote hai jo apni biwi ki baat bilkul nahi mante aur usko bilkul bhi tarjeeh nahi dete. biwi apne shohar se kuch farmayish karti hai jo shohar inkaar kar dete hai. agar aapke shohar bhi aapki koi baat nahi mante yaa aapki kisi bhi baat ko tawajju nahi dete toh hum aapke liye shohar se apni baat manwane ka wazifa lekar aayee hai. ye wazifa parh kar aap apne shohar se apni har jaiz baat ko manwa skti hai Iska asar wazifa karne ke 1 racket baad hello there apko mil jayega. Agar amal apko muskil lage to aap wazifa bhi kar sakte hai.

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ki Dua

  • Agar aap wazu mein hai toh taza wazu na kare.
  • lekin agar aapka wazu nahi hai toh is amal ke liye wazu zaroori hai.
  • Aap Surah Fatir ki Ayat #22 parhe “Innallaha Yusmiu Manyashao”
  • Aap is ayat ko 3, 5, 7, 9, 11, 13, 15, 21 martaba parhe.
  • jitni zyada baar aap parhenge utna hi apko fayda hoga.
  • Aur parh kar us shaks pe dum karde jisko aap apni baat manwana chahte hai.
  • Phir Allah se dua kare ki wo shaks apki baat maan le.
  • Aap ye amal jab tak kare, jab tak wo apki baat nahi maan jate.
  • Insha Allah, apko jald asar dikhega.

Kisi Se Apni Baat Manwane Ka Amal, “Aaj har kisi ka koi na koi dost jarur hai. Koi dost apki baat sunta hai to koi apki baat ko overlook kar deta hai. Agar aap kisi se baat karo or aage se wo apki baat ko nazarandaz kar deta hai. Rohani Amal For Getting Love Back Aaj aisi pareshani se apko nijat dilane ke liye or kisi se apni baat manwane ka amal, wazifa aur tarika batayege. Sabse pahle murmur amal ke uncovered me jaan lete hai ki amal kya hai. or on the other hand yeh kis tarah se kaam karta hai. Agar apka shohar, dost ya maa baap apki baat nahi manate hai to in sabhi ko manane ke liye aaj apko amal karna hoga.

Shohar Se Apni Har Baat Manwane Ka Amal

Apko amal bahut greetings dayan me rakh kar karna hai. Amal ke unadulterated sharpen ke baad jo saksh apki baat tak nhi sunta tha. Amal ke baad wo apke aage piche gumega. Amal ke asar se wo apki har baat ko man lenga. Agar aap kisi se apni baat manwana chahte hai to apke liye murmur ek asan sa amal denge. Amal lene ke liye apko humse rabta karna hoga. Agar apko jayda pareshani ho to aap humhare molvi ji rabta bhi kar sakte hai. Har biwi yeh hello there chahati howdy unke shohar biwi ki har baat mane. Shohar se apni baat manwane ka wazifa bahut hello there kamyab hai.

Kya apke shohar apki koi bhi baat nhi manta hai. Apko duniya ke samne nicha dikhaya jata hai. Apko pareshan sharpen ki jarurat nhi hai. Stomach muscle shohar apki baat ko manega. Biwi tab pareshan jyada hoti hai poke uska shohar greetings uski baat ko nhi sunta ho. Duniya me aap jisse sabse jayda pyar karte hai agar wo hey apki baat na sune to apko kaisa lagega. Biwi apne shohar se kuch cheez ki farmaish karti hai to shohar uski baat nhi manta hai. Jisse ghar me ladai jaghre bane rahte hai, shohar se apni baat manwane ka wazifa, zindgi me kabhi kisi ke samane jukhna cushion jaye to jukhna bhi jaruri hota hai.

Kisi se Apni Baat Manwane Ka Wazifa

Aksar dekha jata hai ki jis insan ko apna kimati waqt diya jata hai wo hello there apki baat nhi sunta hai. Jisse insan ke dil or deemak standard bahut bura asar padta hai. Agar apke maa baap apki pasand ki shadi ki baat ko nhi mante ho. Apni shadi ki baat rakhne ke liye or pasanad ki shadi karne ke liye ghar walo ko manana jaruri hota hai. Agar ghar ridge greetings shadi ke liye nhi razi hote to apki shadi nhi ho pati hai. Isliye apni baat manwane ke liye ghar walo ko razi karna padta hai. Isliye bachye kisi se apni baat manwane ke tarike ki talash karte hai. Kisi se apni baat manwane ke liye aap chahe to amal kar sakte hai.

Dil punch tutata hai poke koi apna greetings baat na mane, aise waqt me apko sabar se kaam lena hai. Kuch waqat aisa hey aata hai. Poke apne greetings apse sath nhi hote hai. Agar aap 5 waqt ki namazi hai or allah se dua karte hai to allah jalad hello there apki dua jarur qabool kar lete hai, baat manane ki dua, Agar dua qabool me deri hoti hai to aap quran e pak ki kuch ayat hai usko padh kar aap kisi se apni baat manane me kamyab ho jayoge. Dua me itni taqat hoti hai ki jo bhi apki baat sunega wo apko baat standard yakeen karne lagega. Bas apko is incredible dua ka kabhi galat istemal na kare.

Kisi se Apni Baat Manwane Ki Dua

Kya apke shohar apse kam prem karte hai?, kya aap apne shohar ka pyar pana chahti hai?, kya aap apne shohar ko apna banana chahti hai?, kya aap apne ko apne vash me karna chahti hai?, kya aap apne shohar ko apne isharo par nchana chahti hai? Yeh sabhi iccha aap puri kar sakte hai. Ji han, shohar se apni baat manwane ka wazifa apki madad kar sakta hai. Yeh apke liye bhi laabhdayak hai. Aksar yeh baat dekhne me aati hai ki shohar apni biwi ke vash me nahi aate hai or isse unke bich tnaav peda hota hai or rishte totne tak ki nobat aa hi jati hai.

Shohar se apni iccha ko pura karwane ke liye aap use jab tak apne vash me nahi karengi tab tak veh apki koi baat nahi sunega. Shohar ko vash me karne or shohar se apni baat manwane ka wazifa hi sabse accha upay hai jiski madad se aap apne shohar ko apna bna sakti hai or hmesha ke liye apne vash me kar sakti hai. Apne vash me karke aap apne shohar se har baat manwa payengi or jesa aap chahengi veh vese hi apke liye sbkuch karenge. Apne shohar ko apna banana se aap apne man ki iccha shkti ki purti kar sakti hai. Manchahi iccha ko pura karne ka yeh tarika bhut hi khas hai or upyogi bhi hai.

Kisi se Apni Baat Manwane Ka Amal

Shohar se apni baat manwane ka wazifa pane ke liye aap humare baba ji se samperk kar sakte hai. Samperk karke hi aap unse har ek upay jan sakte hai. Upay to kyi trah ke ho sakte hai unme se bhut se upay apke liye khusiyo se bhra sansaar pradan karwa sakte hai apko. To bilkul deri na kare aaj hi smaadhaan pane ke liye samperk kare. Kayi baar zindagi mein aise halaat paida ho jate hai, jab hum chahte hai ki sirf humari baat hi maani jaye. Chahe wo baat aapke apas ke rishte ki ho ya phir karobari, hum yahi chahte hai ki jo hum keh rahe hai usko tarjeeh mile aur sab log humari baat sun le.

Agar aapki zindagi mein bhi aisa koi din aya hai toh aap kisi se apni baat manwane ki dua ka istemal kare. Insha Allah, ye baat manwane ki dua aapke liye behad mufeed sabit hoga aur aap jaisa chahenge waisa ho jayega. Aksar log aapko chota samajh kar aapki baat par zyada tarjeeh nahi dete. Kayi baar aapke waldein aapko bacha samajhte hai aur aapke salahon ko utni ehmiyat nahi dete hai. Aise haal mein aap apni baat manwane ka wazifa zaroor kare aur sabki nazar mein apni baat ki ehmiyat paida kare. Apni baat manwane ka wazifa aapko apna rasukh manwane mein behad madadgaar sabit hoga.

शोहर से अपनी हर बात मनवाने का वज़ीफ़ा

शोहर से अपनी हर बात मनवाने का अमल हिंदी में, “हर शक चाहता है के जिस्से भी वो प्यार करता है या उसके घर परिवार वाले उसे कहीं बात माने और उसकी हर बात को तवज्जू दे क्यों की इतना बड़ा लगता है को अपनी बात कहे और सामने वाला उसकी बात को तवज्जू ना दे। अगर आपके साथ भी ऐसा है तो आप फ़िकर ना कर। अगर आप किसी से अपनी जैज बात मनवाना चाहते हैं और सामने वाला जानबुजकर नहीं मान रहा है तो आप अपनी बात मनवाने का वजीफा परे। ये वज़ीफ़ा भूत असरदार है और सामने वाला आपकी हर बात मनने को मजबूर हो जाएगा और आपकी हर बात को तवज्जू भी देगा।

कुछ शोर ऐसे होते हैं जो अपनी बीवी की बात बिलकुल नहीं माने और उसे बिलकुल भी तारजीह नहीं देते। बीवी अपने शोर से कुछ फ़र्मयिश करता है जो शोर इनकार कर देते हैं। अगर आपके शोहर भी आपकी कोई बात नहीं माने या आपकी किसी भी बात को तवज्जू नहीं देखते तो हम आपके लिए हैं। ये वज़ीफ़ा परह कर आप अपने शोहर से अपनी हर जायज़ बात को मनवा सक्ती है इस्का असर वज़ीफ़ा करने के 1 रैकेट बाद हैलो वहाँ आपको मिल जाएगा। अगर अमल आपको मुश्किल लगे तो आप वज़ीफ़ा भी कर सकते हैं।

शोहर से अपनी हर बात मनवाने की दुआ

अगर आप वज़ू में है तो ताज़ा वज़ू ना करे।
लेकिन अगर आपका वज़ू नहीं है तो अमल के लिए वज़ू जरूरी है।
आप सूरह फातिर की आयत #22 परहे “इन्नाल्लाह युस्मिउ मान्याशो”
आप आयत को 3, 5, 7, 9, 11, 13, 15, 21 मरतबा परहे हैं।
जितनी ज्यादा बार आप परेंगे उतना ही आपको फायदा होगा।
और पर कर हमें शक पे दम करदे जिसे आप अपनी बात मनवाना चाहते हैं।
फिर अल्लाह से दुआ करे की वो शक आपकी बात मान ले।
आप ये अमल जब तक करे, जब तक वो आपकी बात नहीं मान लेते।
इंशा अल्लाह, आपको जल्द असर दिखेगा।

किसी से अपनी बात मनवाने का अमल, “आज हर किसी का कोई ना कोई दोस्त जरूर है। कोई दोस्त आपकी बात सुनता है तो कोई आपकी बात को अनदेखा कर देता है। अगर आप किसी से बात करो या आगे से वो आपकी बात को नज़रंदाज़ कर देता है। आज ऐसी परशानी से आपको निजत दिलाने के लिए या किसी से अपनी बात मनवाने का अमल, वज़ीफ़ा और तारिका बतायगे। सबसे पहले बड़बड़ाहट अमल के खुला मुझे जान लेटे है की अमल क्या है। या दूसरी तरफ ये किस तरह से काम करता है। अगर आपका शोहर, दोस्त या मां बाप आपकी बात नहीं मानता है तो इन सबको मनने के लिए आज आपको अमल करना होगा।

शोहर से अपनी हर बात मनवाने का अमल

आपको अमल बहुत बधाई दयान में रख कर करना है। अमल के बिना मिलावट के शार्प के बाद जो साक्षी आपकी बात तक नहीं सुनता था। अमल के बाद वो आपके आगे पिचे गुमेगा। अमल के असर से वो आपकी हर बात को मन लेगा। अगर आप किसी से अपनी बात मनवाना चाहते हैं तो आपके लिए एक आसन सा अमल देंगे। अमल लेने के लिए आपको हमसे रबता करना होगा। अगर आपको जायदा परशानी हो तो आप हमारे मोलवी जी रबता भी कर सकते हैं। हर बीवी ये हैलो वहाँ चाहती हाउडी उनके शोर बीवी की हर बात माने। शोहर से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा बहुत हैलो वहाँ कामयाब है।

क्या आपके शोर आपकी कोई भी बात नहीं मानता है। आपको दुनिया के सामने दिखला जाता है। आपको परशान शार्प की जरुरत नहीं है। पेट की मांसपेशी शोर आपकी बात को मानेगा। बीवी तब परशन ज्यादा होता है पोक उसका शोर अभिवादन उसकी बात को नहीं सुनता हो। दुनिया में आप जिससे सबसे ज्यादा प्यार करता है अगर वो हे आपकी बात न सुनने तो आपको कैसा लगेगा। बीवी अपने शोर से कुछ चीज की फरमाइश करता है तो शोर उसकी बात नहीं मानता है। जिस घर में लडाई जगारे बने रहते हैं, शोर से अपनी बात मनवाने का वजीफा, जिंदगी में कभी किसी के सामने जुखना कुशन जाए तो जुखना भी जरुरी होता है।

किसी से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा

अक्सर देखा जाता है की जिस इंसान को अपना किमती वक्त दिया जाता है वो वहां आपकी बात नहीं सुनता है। जिनसे इन्सान के दिल या डीमक स्टैंडर्ड बहुत बुरा असर पड़ा है। अगर आपके मां बाप आपकी पसंद की शादी की बात को नहीं माने हो। अपनी शादी की बात रखने के लिए या पसंद की शादी करने के लिए घर वालो को मनाना जरुरी होता है। आगर घर रिज बधाई शादी के लिए नहीं रज़ी होते तो आपकी शादी नहीं होती पति है। इस्लिये अपनी बात मनवाने के लिए घर वालो को राज़ी करना पड़ता है। इस्लिये बच्चे किसी से अपनी बात मनवाने के तारिके की तलाश करते हैं। किसी से अपनी बात मनवाने के लिए आप चाहे तो अमल कर सकते हैं।

दिल पंच टूटता है पोक कोई अपना अभिवादन बात न माने, ऐसे वक्त में आपको सबर से काम लेना है। कुछ वक्त ऐसा ही आता है। पोक अपने अभिवादन आपके साथ नहीं होते हैं। अगर आप ५ वक्त की नमाज़ है या अल्लाह से दुआ करता है तो अल्लाह जल्लाद हैलो वहाँ आपकी दुआ ज़रुर क़बूल कर लेते हैं, बात माने की दुआ, अगर दुआ क़बूल में देर होती है तो आप क़ुरान ए पाक की कुछ पढ़ा कर है आप किसी से अपनी बात मनने में कामयाब हो जाएंगे। दुआ में इतनी ताकत होती है की जो भी आपकी बात सुनेगा वो आपको बात स्टैंडर्ड याकेन करने लगेगा। बस आपको अविश्वसनीय दुआ का कभी गलत इस्तमाल ना करे है।

किसी से अपनी बात मनवाने की दुआ

क्या आपके शोर से कम प्रेम करते हैं?, क्या आप अपने शहर का प्यार पाना चाहते हैं?, क्या आपके शोर को अपना बनाना चाहते हैं?, क्या आप अपने को अपने वश में करना चाहते हैं? इशारों पर नचाना चाहता है? ये सब इच्छा आप पूरी कर सकते हैं। जी हां, शोर से अपनी बात मनवाने का वजीफा आपकी मदद कर सकता है। ये आपके लिए भी लभदयक है। अक्सर ये बात देखने में आती है की शोर अपनी बीवी के वश में नहीं आते हैं या ऐसे उनके बीच इतना पेड़ा होता है या रिश्ते इतने तक की नोबत आ ही जाती है।

शोहर से अपनी इच्छा को पूरा करने के लिए आप उपयोग जब तक अपने वश में नहीं करेंगे तब तक वह आपकी कोई बात नहीं सुनेगा। शोहर को वश में करने या शोर से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा ही सबसे अच्छा ऊपर है जिसी मदद से अपने शोर को अपना बनाना शक्ति है या हमेश के लिए अपने वश में कर शक्ति है। अपने वश में आप अपने शोर से हर बात मनवा पायेंगी या जैसा आप चाहेंगे वह वेसे ही आपके लिए कुछ कुछ करेंगे। अपने शोर को अपना बनाना से आप अपने मन की इच्छा शक्ति की पूर्ति कर शक्ति है। मंचही इच्छा को पुरा करने का ये तारिका भूत ही खास है या योगी भी है।

किसी से अपनी बात मनवाने का अमल

शोहर से अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा पाने के लिए आप हमारे बाबा जी से संपर्क कर सकते हैं। संपर्क करके ही आप उनसे हर एक ऊपर जान सकते हैं। ऊपर तो क्या करें के हो सकता है उनमे से भूत से ऊपर आपके लिए खुशियो से भरा संसार करवा सकता है आपको। तो बिलकुल डेरी ना करे आज ही समाधान पाने के लिए संपर्क करे। केई बार जिंदगी में ऐसे हलत पाया हो जाते हैं, जब हम चाहते हैं की सिर्फ हमारी बात ही मान जाएंगे। चाह वो बात आपके आप के रिश्ते की हो फिर करोबारी, हम यही चाहते हैं की जो हम कह रहे हैं उसे मिले और सब लोग हमारी बात सुन ले।

अगर आपकी जिंदगी में भी ऐसा कोई दिन आया है तो आप किसी से अपनी बात मनवाने की दुआ का इस्तमाल करे। इंशा अल्लाह, ये बात मनवाने की दुआ आपके लिए बेहद मुफीद सबित होगा और आप जैसा होगा वैसा हो जाएगा। अक्सर लोग आपको छोटा समझ कर आपकी बात पर ज्यादा तरजीह नहीं देते। केई बार आपके जाने आपको बचाते हैं और आपके सलाहों को इतनी अहमियत नहीं देते हैं। ऐसे हाल में आप अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा ज़रूर करे और सबकी नज़र में अपनी बात की अहमियत दिया करे। अपनी बात मनवाने का वज़ीफ़ा आपको अपना रस मनवाने में बहुत मदद करेगा सबित होगा।

शोहर की मोहब्बत आसान करने का वज़ीफ़ा · शोहर की मोहब्बत पाने का अमली · शोहर की मोहब्बत पाने का वज़ीफ़ा · शोहर की मोहब्बत पाने की दुआ · शोहर को मोहब्बत में दीवाना करने का अमल · SHOHAR KI MOHABBAT HASIL KARNE KA WAZIFA · Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Amal · SHOHAR KI MOHABBAT PANE KA WAZIFA · Shohar Ko Mohabbat Me Deewana Karne Ka Amal

Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Wazifa – शोहर की मोहब्बत पाने का वज़ीफ़ा

Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Wazifa

Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Sabse Taqatwar Wazifa ,” As-Salaam Alaikum Friends, Aaj hum jo wazifa lekar aaye hai ye meri un bahano ke liye hai jinke shohar unse pyar nahi karte yaa phir jinke shohar apni biwi ejjat nahi dete unki kisi bhi baat ko tawajju nahi dete yaa jinke shohar apni biwi pyar mohabbat se baat nahi karte hmesha un par gussa karte hai aese mein biwi ko chahiye ke wo Shohar Ki Mohabbat Ko Pane Ka Sabse Taqatwar Wazifa karen. ye wazifa bhut hi taqatwar aur 100% asardaar hai is wazifa ki madad se aap apne shohar ke dil nafrat aur gussa khatam kar mohabbat paida kar skti hai.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

Aksar dekha jaata hai ke jab nayi nayi shadi hoti hai toh shohar apni wife ko khub mohabbat karta hai aur apni biwi ki har khawaish ko pura karta hai uski har baat manta hai lekin jaise jaise waqt guzrta hai waise waise shohar ka pyar apni biwi ke liye kam hota chala jata hai aur wo apni biwi se ladayi jhgra karta hai uski baat nahi manta yaa kisi na kisi baat ko lekar apni biwi se narazgi bnaye rakhta hai agar aapko bhi lagta hai ke aapke shohar ka pyar aapke liye kam ho gaya hai yaa phir aapke shohar aapko pahle jitna pyar nahi karte hai aapko waqt nahi dete hai toh aapko chahiye ke aap Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Wazifa karen.

Shohar Ki Mohabbat Pane Ki Dua

Har ladki ki khawaish hoti hai ke uski shadi aese insaan se ho jo use khub mohabbat hai har ladki ka sapna hota hai ke uska shohar aisa ho jo use behad pyar kare uski har baat mane aur uski har baat ko tawajju se kyunki ek aurat ke liye uske shohar ki mohabbat uski sabse badi doulat hoti hai shohar ki mohabbat ke bina shadi shuda zindgi ka koi value nahi. duniya bhar ki doulat mil jaye lekin agar shohar ki mohabbat naa mile toh sab bekaar lagta hai agar aap bhi chahti hai ke aapke shohar aapko beshumaar mohabbat kare toh aap Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Amal kare.

Is wazifa ke zariye aapke shohar ke dil mein kabhi naa khatam hone wali mohabbat paida ho jayegi. Islamic Dua For Marriage Proposal Acceptance Is amal ke asarat se aapke shohar ke dil me aapke liye paak mohabbat paida ho jayegi aur aapka shohar aapke liye tadap uthega aap aap dono me shaheed mohabbat paida ho jayegi Lekin agar aapke shohar aapko wo pyar aur mohabbat nahi de rahe jiski aap poori haqdar hai toh aap shohar ki dil me mohabbat ki dua parhe. Jab aap ye dua parhenge toh aapke shohar aapke upar apni jaan nisaar karenge aur aap pe bepanah mohabbat lutayenge. Shohar ki mohabbat mein unki biwi ki wafa bhi shamil hoti hai.

Shohar Ki Mohabbat Pane Ka Amal

  • Shohar Ko Mohabbat Mein Tadpane Ka Amal
  • Iss wazifa ko aap Zohar ki namaz ke baad parhe.
  • Shuruat mein 11 baar Durood Shareef parhe.
  • Uske baad 1250 martaba Al-Kabeer (अलकबीर) parhe.
  • Aakhir mein 11 martaba Durood Shareef phir se parhe,
  • Aur ek glass paani mein dum karde.
  • Paani apne shohar ko pila de.
  • Ye wazifa aapko 21 din tak karna hai
  • Insha Allah, thode waqt mein aapke shohar aapke upar meherbaan ho jayenge aur aapki mohabbat meion tadap uthenge.
  • Ghaur Talab: Khawateen Ye Wazifa Haiz/Maahwari/Ayyaam Me Bhi Parh Sakti Hain.


Insha Allah, aapko fayda zaroor milega. Aap poore yakeen aur saaf dil se is amal ko kare. Allah Talah se dua kare. Aapke shohar ka dil aur dimaag dono badal jayega aur wo aapko beshumar mohabbat karne lagenge. Aap chahe toh amal shuru karne se pehle behtar kamyabi ke liye molvi ji se bhi baat karle. Biwiyan humesha yahi chahti hai ki unke shohar sabse zyada mohabbat unse kare. Wo apne shohar ko khud se door hota nahi dekh sakti. Ye unke liye behad afsos ki baat hai. Wo apne shohar ka poora pyar aur poori tawajjo chahti hai kyuki wahi uski duniya hoti hai.

Shohar Ki Mohabbat Hasil Karne Ka Wazifa

Jab aap ye taweez apne shohar ke takiye ke niche ya gale mein pehna denge toh aapke shohar ye sari harkatein chor denge aur wo aapke liye pure wafadar ho jayenge. lekin bahar jakar dusri aurton ke upar dore daalte hai aur unko galat nighaho se dekhte hai, toh aap shohar ki mohabbat ka taweez le le. Wo aapke hisab se aapke mutabik asardar taweez bana ke denge jisse aapko aapke shohar ki mohabbat phir se hasil ho jayegi. Agar aapke shohar ko kisi ne behka diya hai aur wo aapko galat samajhne lage hai aur apse naraz rehte hai ya buri tarah baat karte hai toh aap shohar ko apni taraf karne ka wazifa parhe.

Jab aap ye wazifa parhenge toh aapke shohar kabhi bhi dusro ki baat mein nahi ayenge aur aapki har baat manenge. Wo aapki mohabbat mein deewane ho jayenge aur humesha har jhagre mein aapka sath denge. Aap shohar ke dil me mohabbat ki dua parhe aur Insha Allah, aapke shohar aapse bepanah mohabbat karenge. Agar aapko Arabic parhne mein takleef hoti hai toh aap humare molvi ji se is wazifa ko hindi mein bhi hasil kar sakte hai. Wo aapko poora tarika sahi se bata denge. Shohar ki beshumar mohabbat pane ki dua in hindi koi bhi asaani se parh sakta hai.

Shohar Ko Mohabbat Me Deewana Karne Ka Amal

Insha Allah, aapko fayda zaroor milega. Aap poore yakeen aur saaf dil se is amal ko kare. Allah Talah se dua kare. Aapke shohar ka dil aur dimaag dono badal jayega aur wo aapko beshumar mohabbat karne lagenge. Aap chahe toh amal shuru karne se pehle behtar kamyabi ke liye molvi ji se bhi baat karle.Kya aapko din raat is baat ka gum hai ki aapke shohar aapke hokar bhi aapke nahi hai? Kya apke shohar aapko chorke kisi aur ko waqt dete hai? Kya aapki har koshish ke bawjood bhi aapke shohar aapko wo tawajjo aur ahmiyat nahi dete jiske apka haq hai? Agar aapke shohar ghar mein toh aapse mohabbat karte hai,

Aap ko ye taweez humare molvi ji se le. Agar aapke shohar aapse utni mohabbat nahi karte jitni unko karni chahiye toh aap shohar ki mohabbat hasil karne ki dua parhe. Jab aap ye dua parhengi toh aapke shohar aap mein dilchaspi lenge aur aapse bepanah mohabbat karne lagenge. Agar aapke shohar aapko maarte hai ya phir aapke upar zulm karte hai toh aap dukhi na ho. Aap shohar ki mohabbat pane ki taweez aur dua in hindi dono sath mein istemal kare. Ek aurat apni poori zindagi apne shohar ke naam kar deti hai aur badle mein sirf apne shohar ka waqt, tawajjo aur mohabbat chahti hai.

शोहर की मोहब्बत पाने का वज़ीफ़ा

शोहर की मोहब्बत पाने का सबसे ताकतवर वज़ीफ़ा, ”अस-सलाम अलैकुम दोस्तों, आज हम जो वज़ीफ़ा लेकर आए हैं ये मेरी उन बहानो के लिए हैं जिन्के शोर उनसे प्यार नहीं करते फिर जिन्के शोहर अपनी न बीवी तवाज्जु नहीं देते या जिन्के शोर अपनी बीवी प्यार मोहब्बत से बात नहीं करते हमेश उन पर गुसा करते हैं ऐसे में बीवी को चाहिए के वो शोहर की मोहब्बत को पाने का सबसे ताकतवर वजीफा करेन। ये वज़ीफ़ा भुत ही तकतवार और 100% असरदार है वज़ीफ़ा की मदद से आप अपने शोहर के दिल नफ़रत और गुस्सा ख़तम कर मोहब्बत दिया कर सक्ती है।

कभी देखा जाता है के जब नई नई शादी होती है तो शोहर अपनी पत्नी को अच्छी मोहब्बत करता है और अपनी बीवी की हर ख्वाइश को पूरा करता है उसकी हर बात मानता है लेकिन जैसा जैसा जाता है है आपको होता चला जाता है और वो अपनी बीवी से लड़ी झगड़ा करता है उसकी बात नहीं मानता या किसी न किसी बात को लेकर अपनी बीवी से नरजगी बनाया रखता है अगर आपको भी लगता है कि आपके पास है आपके शोहर आपको पहले जितना प्यार नहीं करते हैं आपको वक्त नहीं देते हैं तो आपको चाहिए के आप शोहर की मोहब्बत पाने का वजीफा करें।

शोहर की मोहब्बत पाने की दुआ

हर लड़की की ख्वाइश होती है के उसकी शादी ऐसे इंसान से हो जो इस्तेमाल खूब मोहब्बत है हर लड़की का सपना होता है के उसका शोहर ऐसा हो जो इस्तेमाल प्यार करे उसकी हर बात माने और उसे हर बात को क्या तवाजू से करता है उसके शोहर की मोहब्बत उसके सबसे बड़ी दौलत होती है शोर की मोहब्बत के बिना शादी शुदा जिंदगी का कोई वैल्यू नहीं। दुनिया भर की दौलत मिल जाए लेकिन अगर शोर की मोहब्बत ना मिले तो सब बेकर लगता है अगर आप भी चाहता है के आपके शोहर आपको बेशुमार मोहब्बत करे तो आप शोर की मोहब्बत पाने का अमल करे।

इस वज़ीफ़ा के ज़रिया आपके शोर के दिल में कभी ना ख़तम होने वाली मोहब्बत चुका हो जाएगी। है अमाल के असर से आपके शोहर के दिल में आपके लिए पाक मोहब्बत चुका हो जाएगी और आपका शोर आपके लिए होगा तो आप शोर की दिल में मोहब्बत की दुआ परे। जब आप दुआ करेंगे तो आपके शोहर आपके ऊपर अपनी जान निसार करेंगे और आप पे बेपनाह मोहब्बत लुटेंगे। शोहर की मोहब्बत में उनकी बीवी की वफ़ा भी शमील होती है।

शोहर की मोहब्बत पाने का अमल

  • शोहर को मोहब्बत में तड़पने का अमली
  • इस वज़ीफ़ा को आप जोहर की नमाज़ के बाद परहे।
  • शुरुआत में 11 बार दुरूद शरीफ परहे।
  • उसके बाद 1250 मरतबा अल-कबीर परहे।
  • आखिर में 11 मरतबा दुरूद शरीफ फिर से परहे,
  • और एक गिलास पानी में दम करदे।
  • पानी अपने शोर को पिला दे।
  • ये वज़ीफ़ा आपको 21 दिन तक करना है
  • इंशा अल्लाह, थोड़े वक्त में आपके शोहर आपके ऊपर मेहरबान हो जाएंगे और आपकी मोहब्बत में तड़प उठेंगे।
  • गौर तालाब: ख्वातेन ये वज़ीफ़ा हैज़/महावारी/अय्याम में भी पार शक्ति हैं

इंशा अल्लाह, आपको फ़ायदा ज़रूर मिलेगा। आप गरीब याकेन और साफ दिल से अमल को करे। अल्लाह तलह से दुआ करे। आपके शोर का दिल और दिमाग दोनो बदल जाएगा और वो आपको बेशुमार मोहब्बत करने लगेंगे। आप चाहे तो अमल शुरू करने से पहले बेहतर काम्याबी के लिए मोलवी जी से भी बात करले। बिवियां हमें यही चाहती है कि उनके शोर सबसे ज्यादा मोहब्बत उनसे करे। वो अपने शहर को खुद से दूर होता नहीं देख शक्ति। ये उनके लिए बेहद अफसो की बात है। वो अपने शोर का पूरा प्यार और पूरी तवाज्जो चाहता है क्योंकि वही दुनिया होती है।

शोहर की मोहब्बत आसान करने का वज़ीफ़ा

जब आप ये तवीज़ अपने शोर के तकिये के आला या गले में देंगे तो आपके शोहर ये साड़ी हरकतें चोर देंगे और वो आपके लिए शुद्ध वफादार हो जाएंगे। लेकिन बाहर जकार दुसरी औरतों के ऊपर दो डालते हैं और उन्हें गलत निगाहों से देखते हैं, तो आप शोर की मोहब्बत का तवीज ले ले। वो आपके हिसाब से आपके बहुत से असरदार तवीज बना के देंगे आपको आपके शोहर की मोहब्बत फिर से मुश्किल हो जाएगी। अगर आपके शोर को किसी ने बहका दिया है और वो आपको गलत समझने लगे हैं और आपसे नराज रहते हैं या बुरी तरह बात करते हैं तो आप शोर को अपनी तरह करने का वजीफा परहे।

जब आप ये वज़ीफ़ा परेंगे तो आपके शोहर कभी भी दसरो की बात में नहीं आएंगे और आपकी हर बात मानेगे। वो आपकी मोहब्बत में दीवाने हो जाएंगे और हम हर झगरे में आपका साथ देंगे। आप शोर के दिल में मोहब्बत की दुआ परहे और इंशा अल्लाह, आपके शोहर आपसे बेपनाह मोहब्बत करेंगे। अगर आपको अरबी परहने में तकलीफ होती है तो आप हमारे मोलवी जी से वज़ीफ़ा को हिंदी में भी हैसिल कर सकते हैं। वो आपको पूरा तारिका सही से बता देंगे। शोहर की बेशुमार मोहब्बत पाने की दुआ हिंदी में कोई भी आसन से पार सकता है।

शोहर को मोहब्बत में दीवाना करने का अमल

इंशा अल्लाह, आपको फ़ायदा ज़रूर मिलेगा। आप गरीब याकेन और साफ दिल से अमल को करे। अल्लाह तलह से दुआ करे। आपके शोर का दिल और दिमाग दोनो बदल जाएगा और वो आपको बेशुमार मोहब्बत करने लगेंगे। आप चाहो तो अमल शुरू करने से पहले बेहतर काम्याबी के लिए मोलवी जी से भी बात करले। क्या आपको दिन रात बात का गम है आपके शोहर आपके होकर भी आपके नहीं है? क्या आपके शोहर आपको चोर किसी और को वक्त देते हैं? क्या आपकी हर कोषिश के बवजूद भी आपके शोहर आपको वो तवाज्जो और अहमियत नहीं देते जिसके आपका हक है? अगर आपके शोर घर में तो आपसे मोहब्बत करते हैं,

आप को ये तवीज़ हमारे मोलवी जी से ले। अगर आपके शोर आप से उतनी मोहब्बत नहीं करते जितनी उन्हें करनी चाहिए तो आप शोर की मोहब्बत बहुत करने की दुआ परे। जब आप दुआ परहेंगी तो आपके शोहर आप में दिलचस्पी लेंगे और आप मोहब्बत करेंगे करेंगे। अगर आपके शोर आपको मरते हैं या फिर आपके ऊपर ज़ुल्म करते हैं तो आप दुखी ना हो। आप शोर की मोहब्बत पाने की तवीज और दुआ हिंदी में दोनो साथ में इस्तमाल करे। एक औरत अपनी पूरी जिंदगी अपने शोर के नाम कर देती है और बदले में सिर्फ अपने शोर का वक्त, तवाज्जो और मोहब्बत चाहता है।

शोहर के दिल में अपनी जगह बनने की दुआ · शोहर के दिल में मोहब्बत कैसे पैदा करे दुआ से · शोहर के दिल में मोहब्बत कैसे पैदा करे वज़ीफ़ा से · शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने का अमल · शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वज़ीफ़ा · शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने की दुआ · Shohar Ke Dil Mein Apni Jaga Banane Ki Dua · Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Kaise Paida Kare Dua Se · Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Kaise Paida Kare Wazifa Se · Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Amal · Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa · Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ki Dua

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Amal – शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने का अमल

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ki Dua

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Amal As-salamu Alaykum Friends, miya biwi ka rishta jitna majbut hota hai utna hi najuk bhi hota hai is rishtey me jahan ek dusre ke liye paak mohabbat hoti hai waha kabhi kabhi ladai jhagre bhi rahte hai miyan biwi ke rishtey me ek dusre se ruthna-manana chalta rahta hai miyan biwi ke is rishtey me ek dusre ke darmiyan mohabbat aur bharoshe ka hona behad jaruri hai kyunki ye rishta mohabbat ke bina chal nahi skta isliye har ladki chahti hai ke uska shohar usse bepanha mohabbat kare. shohar ki mohabbat aurat ke liye sabse badi doulat hoti hai isliye har ladki chahte hai ke uska shohar usse bepanha mohabbat kare.

banner1

वज़ीफ़ा हमेशा से इस्लामिक तरीका रहा है। यह वास्तव में एक प्रार्थना है जो मुस्लिम अल्लाह के सामने करते हैं। इस कारण से सभी को सतर्क रहने की आवश्यकता है। चूंकि अल्लाह सब कुछ देखता है। कोई किसी की शादी नहीं तोड़ना चाहता। लेकिन अगर आपने अपने प्रियजन के साथ विश्वासघात किया है? शादी तोड़ने के लिए वज़ीफ़ा आपको अपनी इच्छा पूरी करने में मदद करेगा। वास्तव में अल्लाह किसी को चोट पहुँचाने के इरादे का समर्थन नहीं करता है।

agar aap bhi chahti hai ke aapka shohar aapse diwano ki tarah mohabbat kare aapke alawa kisi aur ke bare me naa soche toh hum aapke liye behad taqatwar mujarib amal lekar aaye hai jiski madad se aap apne shohar ke dil me kabhi naa khatam hone wali mohabbat paida kar skti hai. Aksar dekha jaata hai ke jab nayi nayi shadi hoti hai toh miyan biwi mein ek dusre ke liye khob mohabbat hoti hai lekin jaise jaise waqt gujarta jaata hai shohar ka pyar apni biwi ke liye kam hota jaata hai aur wo apni biwi se pahle jitni mohabbat nahi karta hai jiske chalte miyan biwi me ladai jhgare shuru ho jaate hai.

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Wazifa

Agar aapko lagta hai ke aapke shohar ki mohabbat aapke liye khatam hoti jaa rahi hai yaa phir aapke shohar aapse pahle ki taraf mohabbat nahi karte hai yaa kisi gair aurat ke chakkar me aapse mohabbat karna chod diye hai toh aapko chahiye ke aap Shohar Ko Mohabbat Me Beqarar Karne Ka Taqatwar Amal lekar aaye hai. Islamic Dua For Marriage Proposal Acceptance  quran me bhut se amal or wazifa diye gaye hai jiski madad se aap apne shohar ke dil me mohabbat paida kar skti hai aisa hi ek khas aur behad hi taqatwar amal hum lekar aaye hai jiski madad se aap apne shohar ko apni mohabbat me beqarar kar skti hai jisse aapka shohar aapki mohabbat me tadap jayega aur aapse bepanha mohabbat karne lag jayega.

Miyan biwi ka rishta duniya ka sab se muqadas or khubsurat rishta hai. Allah ne pehla rishta jo duniya main qaim kiya wo miyan biwi ka rishta tha. Ye rishta jitna paidar or paak hai kai lihaz se utna hi kamzroo bi hai. Is rishtay ko qaim rakhnay k liye quran pak mein bht si ayat mujood hain jo Dua k tor par parhi jaa saktay hain or jiski madad se shohar k dil mein mohabbat paida ki ja sakti hai. Shohar ke dil mein jaga banane ki dua aap poora aqeeda rakh kar parhye In sha Allah kamyabi zaroor haasil hogi. Ye dua urooj maah ki pehli Jummerat se shuru hogi. Raat ko jab sonay jayen to theek us se pehlay.

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Paida Karne Ka Amal

  • sabse pahle sunnat ke hisab se wuzu karna hai
  • iske baad 3 martba Darood Shareef parhe.
  • phir aapko ye dua ko 21 martaba parhna hai
  • “Kum Wa Yuhibbu Nahu Azil Lata Alal Mu’meenina Aa Izzatan Alal Kafeerina”
  • aakhir me phir se 3 martaba Darood Shareef parhna hai
  • iske baad kisi meethi cheez par dum karke apne shohar ko khila dena hai
  • ye amal aapko 11 din tak karna hai.
  • InshaAllah aapke shohar ke dil me kabhi naa khatam hone wali mohabbat paida ho jayegi

Har aurat ki khwahish hoti hai k wo apnay shohar k dil mein mohabbat paida kar sakay. Lekin phir bhi apni har koshish k baad bhi wo aisa karne mn agar nakam rahe to mayoos nah on. Sb se pehlay ye zaroori hai k aap apas mein baat cheet kar k maslon ko hal karnay ki koshish karen. Lekin agar us se bhi koi faida na ho to aap hamaare Shohar k dil mein mohabbat paida karnay ka wazifa ka sahara le sakti hain. Is maslay ko hal karny k liye ye wazifa kar sakti hain aap or wazifa ye hai k wazu kar k din mein kisi bhi waqt ka 800 baar wirad karain or Allah pak se apnay maslay k baray mein dua karain.

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Kaise Paida Kare Dua Se

Miyan biwi ka rishta sirf tabhi qaim reh skta hai jab donon k dil mein aik dosray k liye mohabbat or izzat ho. Lekin phir bhi har koshish k bawajood aap apnay shohar k dil mein jaga nahin bana pa rahi hain to phr aap Allah ki taraf rujo kar sakti hain or Allah se madad le sakti hain. Shohar k dil mein jaga banany ka wazifa ko parhnay k liye aap ko kisi ki ijazat lainay ki zaroorat nahin hai. Ye wazifa Quran o Hadees ki Roshni main miyan biwi k darmiyaan mohabbat paida karne k liye hai. Ye wazifa un k darmiyaan mujood har qism ki pareshani ko door kar sakta hai. Sab se pehlay wuzu kar lein.

Ye amal aap ko 7 din tak karna ha In sha Allah aap ko kamyabi zaroor haasil hogi. Is mohabbat ke wazifa ko karnay k liye kch sharait hain. Sharaait mundarja zail hain. Ek shadi tab hi kamyab hoti hai jab aapke shohar bhi aapki utni hi parwah aur mohabbat kare jitni aap unki parwah aap karti hai. Agar aapke shohar aapse mohabbat nahi karte toh aapki shadi kisi bojh se kam nahi. Jab miya biwi ke darmiyan beshumar ishq hota hai toh wo shadi behad khushnuma aur kamyab hoti hai. Agar aap apne shohar ke dil mein mohabbat paida karne ka amal chahti hai toh aap shohar ki mohabbat ka amal kare.

Shohar Ke Dil Mein Mohabbat Kaise Paida Kare Wazifa Se

Agar aapki nayi nayi shadi huyi hai aur aap chahti hai ki shadi ke pehle roz se hi aapke shohar aapko deewano ki tarah chahe aur aap dono mein gehra rishta ho toh aap shohar ke dil mein mohabbat paida karne ka amal kare. Insha Allah, aapke shohar aapse beshumar mohabbat karenge aur waqt ke sath kabhi aapki mohabbat feeki na hogi. Agar aapki shadi ko kafi waqt ho gaya hai aur aapko lagta hai ki aapke shohar ki mohabbat aapke liye kam ho gayi hai toh aap shohar ke dil mein mohabbat paida karne ka amal ka istemal kare, aapko bahot jald iska fayda milega.

Agar aapko lagta hai ki aapke shohar aapko chor kar kisi aur aurat ki taraf ruju ho rahe hai ya phir wo kisi aur se shadi karne ka khayal apne dil mein rakhe hai toh aap shohar ko apni taraf karne ka amal kare. Ye amal aapke shohar ke dil se kisi aur aurat ka khayal tak mita dega aur wo aapke paas laut ayenge. Insha Allah, aage ki zindagi mein wo aapko chor kar kisi aur ke pass kabhi nahi jayenge aur humesha aapke wafadar rahenge. Shohar ko apni taraf karne ka amal behad khaas hai. Insha Allah, aapke shohar aapse deewano ki tarah mohabbat karne lagenge aur aap dono ta-zindagi khush rahenge.

Shohar Ke Dil Mein Apni Jaga Banane Ki Dua

Agar aap apne shohar ke dil mein apne liye juzbaat aur mohabbat dekhna chahti hai toh aap shohar ke dil mein mohabbat paida karne ka amal ka sahara le. Poore yakeen aur akeede ke sath Allah Talah se dua mange, aapki hajat zaroor kubool hogi. Aap shohar ko apni taraf karne ka amal humare molvi sb. se hasil kar sakte hai. Lekin yaad rahe ye amal sirf ek biwi hi apne shohar ke liye kar sakti hai aur koi nahi. Jis tarah se molvi sb. bataye, waise hi kare aur Insha Allah, kuch roz mein aapko iska asar dikhne lagega. Kyuki amal mujarrab hai isliye aap pehle iski ijazat humare molvi sb. se le uske baad isko karna shuru kare.

Shohar ki mohabbat hasil karne ke liye aap “Kum Wa Yuhibbu Nahu Azil Lata Alal Mu’meenina Aa Izzatan Alal Kafeerina” ko kul 99 martaba parhe aur har 33 martaba parhne ke baad kisi meethi cheez baar dum kare. Is tarah se aap 3 martaba dum kare. Iske baad wo meethi cheez apne shohar ko khila de. . Donon rakaat mein 1 baar surah fatiha or 1 baar surah ikhlaas parh kar salaam phair kar kharay hojayen or 3 hazaar martaba YA AZEEZU parhain 3 din tak. Phir 4 din 5 hazaar martaba YA AZEEZU parhain. Ye amal 7 din tak jaari rakhain inshallah shohar k dil mein aap k liye mohabbat paida hogi.

शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने की दुआ

शोहर के दिल में मोहब्बत पैसा करने का अमल अस-सलामु अलैकुम दोस्तों, मियां बीवी का रिश्ता जीता मजबूर होता है इतना ही नजुक भी होता है रिश्ते में जहान एक दसरे के लिए भी प्यार होता है वहा कभी कभी बीवी के रिश्ते में एक दसरे से रूथना-मनाना चलता रहता है मियां बीवी के रिश्ते में हैं एक दसरे के दरमियान मोहब्बत और भरे का होना बेहद जरुरी है क्योंकि लड़की ये रिश्ता मोहब्बत के बिना चला नहीं हर पन्ना है मोहब्बत करे. शोहर की मोहब्बत औरत के लिए सबसे बड़ी दौलत होती है इसलिय हर लड़की चाहते हैं के उसका शोर उससे बेपन्हा मोहब्बत करे।

अगर आप भी चाहता है के आपका शोर आपसे दीवानो की तरह मोहब्बत करे आपके अलावा किसी और के नंगे में ना सोचे तो हम आपके लिए बेहद जरूरी है। कर स्की है। अक्सर देखा जाता है के जब नई नई शादी होती है तो मियां बीवी में एक दसरे के लिए हैं जैसे जैसे वक्त गुजराता जाता है शोर का प्यार अपनी बीवी के लिए जाता है करता है जिसके चलते मियां बीवी में लड़ाइ झगरे शुरू हो जाते हैं।

शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने का वज़ीफ़ा

अगर आपको लगता है के आपके शोहर की मोहब्बत आपके लिए खतरनाक हो जाती है या फिर आपके शोहर आप पहले की तरह मोहब्बत नहीं करते हैं या फिर किसी गैर औरत के चक्कर में आपको फिर से बेकरार करने का तकतवार अमल लेकर आया है। क़ुरान में भूत से अमल या वज़ीफ़ा दिए गए हैं जिस मदद से आप अपने शोहर के दिल में मोहब्बत मिला कर स्कती है ऐसा ही एक खास और बेहद ही तकतवर अमल हम लेकर आए है जिस मदद से आप अपने को है जिससे आपका शोर आपकी मोहब्बत में तड़प जाएगा और आपसे बेपनाह मोहब्बत करने लग जाएगा।

मियाँ बीवी का रिश्ता दुनिया का सब से मुक़द्दस या ख़ूबसूरत रिश्ता है। अल्लाह ने पहला रिश्ता जो दुनिया मैं क़ैम किया वो मियां बीवी का रिश्ता था। ये रिश्ता जीता पेदार या पाक है का लिहाज से उतना ही कमजरू बी है। इस रिश्ते को क़ैम रखना के लिए क़ुरान पाक में भट सी आयत मुजूद है जो दुआ के तोर पर परी जा सकता है या जिसी मदद से शोर के दिल में मोहब्बत भुगतान की जा शक्ति है। शोहर के दिल में जग केले की दुआ आप पूरा अकीदा रख कर परहे इन शा अल्लाह काम्याबी जरूर हासिल होगी। ये दुआ उरोज माह की पहली जुमेरत से शुरू होगी। रात को जब सोने जाने तो ठीक उससे पहले।

शोहर के दिल में मोहब्बत पैदा करने का अमल

  • सबसे पहले सुन्नत के सबसे से वुज़ू करना है
  • इस्के बाद 3 मार्तबा दरूद शरीफ परहे।
  • फिर आपको ये दुआ को 21 मरतबा परहना है
  • “कुम वा युहिब्बू नहू अज़ील लता अलल मुमीनिना आ इज़्ज़तन अलल कफीरिना”
  • आखिर में फिर से 3 मरतबा दरूद शरीफ परहना है
  • इस्के बाद किसी मीठी चीज पर दम करके अपने शोहर को खिलाना है
  • ये अमल आपको 11 दिन तक करना है।
  • इंशाअल्लाह आपके शोर के दिल में कभी ना खतम होने वाली मोहब्बत चुका हो जाएगी

हर औरत की ख़्वाब होती है के वो अपने शोर के दिल में मोहब्बत चुका कर सके। लेकिन फिर भी अपनी हर कोषिश के बाद भी वो ऐसा करने मन अगर नाकाम रहे तो मायोस ना ऑन। सब से पहले ये जरूरी है के आप में बात चीट कर के मसाले को हल करना की कोषिश करें। लेकिन अगर हमें से भी कोई फैदा ना हो तो आप हमारे शोहर के दिल में मोहब्बत चुका करना का वजीफा का सहारा ले शक्ति है। इस मसले को हल करने के लिए ये वज़ीफ़ा कर सकती हैं आप या वज़ीफ़ा ये है के वज़ू कर के दिन में किसी भी वक़्त का 800 बार विरद करैन या अल्लाह पाक से अपने मसले के बर में दुआ करें।

शोहर के दिल में मोहब्बत कैसे पैदा करे दुआ से

मियां बीवी का रिश्ता सिरफ तबी क़ैम रह स्कता है जब दोंन के दिल में एक दोसरे के लिए मोहब्बत या इज्जत हो। लेकिन फिर भी हर कोषिश के बावजूद आप अपने शोर के दिल में जग नहीं बना पा रही हैं तो आप अल्लाह की तरफ रूजो कर सकती हैं या अल्लाह से मदद ले सकती हैं। शोहर के दिल में जगा बनानी का वज़ीफ़ा को पर्ने के लिए आप को किसी की इज्ज़त लेने की ज़रूरत नहीं है। ये वज़ीफ़ा क़ुरान ओ हदीस की रोशनी में मियाँ बीवी के दरमियान मोहब्बत भुगतान करने के लिए है। ये वज़ीफ़ा उन के दरमियान मुजूद हर क़िस्म की परशानी को दूर कर सकता है। सब से पहले वुज़ू कर लें।

ये अमल आप को 7 दिन तक करना हा इन शा अल्लाह आप को काम्याबी जरूर हासिल होगी। क्या मोहब्बत के वज़ीफ़ा को करना के लिए कुछ हिस्सा है। शरत मुंदरजा जेल हैं। एक शादी तब ही कामयाब होती है जब आपके शोर भी आपकी उतनी ही परवाह और मोहब्बत करे जितनी आप उनकी परवाह आप करती है। अगर आपके शोहर आपसे मोहब्बत नहीं करते तो आपकी शादी किसी बोझ से कम नहीं। जब मियां बीवी के दरमियान बेशुमार इश्क होता है तो वो शादी बेहद खुशनुमा और कामयाब होती है। अगर आप अपने शोर के दिल में मोहब्बत चुका करने का अमल चाहती है तो आप शोर की मोहब्बत का अमल करे।

शोहर के दिल में मोहब्बत कैसे पैदा करे वज़ीफ़ा से

अगर आपकी नई नई शादी हुई है और आप चाहती है कि शादी के पहले रोज से ही आपके शोहर आपको दीवानों की तरह चाहे और आप दोनो में गहरा रिश्ता हो तो आप शोहर के दिल में प्यार किया। इंशा अल्लाह, आपके शोहर आपसे बेशुमार मोहब्बत करेंगे और वक्त के साथ कभी आपकी मोहब्बत फीकी ना होगी। अगर आपकी शादी को कफी वक्त हो गया है और आपको लगता है कि आपके शोहर की मोहब्बत आपके लिए कम हो गई है तो आप शोर के दिल में मोहब्बत मिला है का अमल का इस्तमाल करे, आपको बहुत होगा।

अगर आपको लगता है कि आपके शोर आपको चोर कर किसी और औरत की तरफ रूजू हो रहे हैं या फिर वो किसी और से शादी करने का ख्याल अपने दिल में रखा है तो आप शोहर को में। ये अमल आपके शोर के दिल से किसी और औरत का ख्याल तक मीठा दूंगा और वो आपके पास लौटेंगे। इंशा अल्लाह, आगे की जिंदगी में वो आपको चोर कर किसी और के पास कभी नहीं जाएंगे और हमें आपके वफादर रहेंगे। शोहर को अपनी तरफ करने का अमल बहुत खास है। इंशा अल्लाह, आपके शोहर आप दीवानों की तरह मोहब्बत करने लगेंगे और आप दोनो ता-जिंदगी खुश रहेंगे।

शोहर के दिल में अपनी जगह बनने की दुआ

अगर आप अपने शोर के दिल में अपने लिए जुज़बात और मोहब्बत देखना चाहता है तो आप शहर के दिल में मोहब्बत चुका करने का अमल का सहारा ले। पूरे याकेन और अकीदे के साथ अल्लाह तलह से दुआ मांगे, आपकी हजत जरूर होगी। आप शोर को अपनी तरफ करने का अमल हमारे मोलवी सब। से मुश्किल कर सकते हैं। लेकिन याद रहे ये अमल सिरफ एक बीवी ही अपने शोर के लिए कर सकती है और कोई नहीं। जिस तरह से मोलवी सब. बताये, वैसे ही करे और इंशा अल्लाह, कुछ रोज में आपको इसका असर दिख जाएगा। क्युकी अमल मुजर्रब है इसलिय आप पहले इसकी इज्ज़त हमारे मोलवी एसबी। से ले उसके बाद इसे करना शुरू करें।

शोहर की मोहब्बत आसान करने के लिए आप “कुम वा युहिब्बू नहू अजील लता अलल मु’मीनिना आ इज्ज़तन अलल कैफेरिना” को कुल 99 मरतबा परहे और हर 33 मरतबा परहने के बाद किसी मीठी चीज बार दम करे। इस तरह से आप 3 मरतबा दम करे। इसके बाद वो मीठी चीज अपने शोहर को खिला दे। . दोनो रकात में १ बार सूरह फातिहा या १ बार सूरह इखलास परह कर सलाम फिर कर खारे हों या ३ हज़ार मरतबा या अज़ीज़ू परहैं ३ दिन तक। फ़िर 4 दिन 5 हज़ार मरतबा या अज़ीज़ू परहिन। ये अमल 7 दिन तक जारी रखें इंशाल्लाह शोर के दिल में आप के लिए मोहब्बत चुका होगी।